[ad_1]

Voters increased continuously in Rampur, figure reached 17.31 lakh from 3.76, Abul Kalam Azad became first MP

मतदाता
– फोटो : PTI

विस्तार


लोकसभा चुनाव के 72 साल के इतिहास में रामपुर सीट पर वोटरों की संख्या साल-दर-साल बढ़ती रही। इस सीट पर 1952 में हुए आजाद के बाद पहले लोकसभा चुनाव में 3.76 लाख वोटर थे, अब यहां वोटरों का आंकड़ा 17.31 लाख तक पहुंच गया है।

1952 के चुनाव से वर्तमान में 2024 लोकसभा चुनाव तक 13.55 लाख मतदाताओं का इजाफा हुआ है। रामपुर में 1952 में लोकसभा का चुनाव हुआ। पहली बार हुए लोकसभा चुनाव में 3,76,635 वोटरों ने लोकतंत्र के पर्व में हिस्सा लिया।

पहले चुनाव में कांग्रेस के प्रत्याशी मौलाना अब्दुल कलाम आजाद ने सफलता पाई। उन्होंने अपने निकटतम प्रत्याशी को हराकर देश की सबसे बड़ी पंचायत का सफर ही नहीं तय किया, बल्कि केंद्र सरकार में पहले शिक्षा मंत्री भी बने।

इसके बाद हुए चुनावों में वोटरों की संख्या लगातार बढ़ती चली गई। हालांकि 2009 लोकसभा चुनाव में 2,66,054 वोटर घट गए। 2014 के चुनाव में वोटरों की संख्या फिर बढ़ गई। 2014 में वोटरों की संख्या बढ़कर 16.16 लाख तक पहुंच गई।

इसके बाद वोटरों की संख्या बढ़ती चली गई। मौजूदा चुनाव में वोटरों की संख्या 17.31 लाख तक पहुंच गई है। अब जिले में 17.31 लाख वोटर अपने सांसद का चुनाव करेंगे। 

किस चुनाव में कितने मतदाता

चुनाव      वोटर              विजेता

1952    3,76,635        मौलाना अबुल कलाम आजाद

1957    4,03,446        रजा सैयद मेहंदी

1962    4,21,922        रजा सैयद मेहंदी

1967    4,99,114        जुल्फिकार अली खां

1971    5,52,912        जुल्फिकार अली खां

1977    6,33,744        राजेंद्र शर्मा

1980    7,00,181        जुल्फिकार अली खां

1984    7,52,171        जुल्फिकार अली खां

1989    9,72,113        जुल्फिकार अली खां

1991    9,79,613        राजेंद्र शर्मा

1996    12,86,323      बेगम नूरबानो

1998    13,13,581       मुख्तार अब्बास नकवी

1999    13,22,470        बेगम नूरबानो

2004    14,20,598        जयाप्रदा

2009    11,54,544        जयाप्रदा

2014    16,16,984        डा.नैपाल सिंह

2019    16,58,551        आजम खां

 

 

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *