Tikamgarh: Elderly died due to wrong injection in private clinic, family members filed complaint alleging

पुलिस मामले की जांच कर रही है
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ जिले के बड़ागांव नगर में गलत इंजेक्शन देने से बुजुर्ग की मौत होने का मामला सामने आया है। झांसी ले जाते समय बुजुर्ग की मौत हुई है। परिजनों ने बुधवार को शिकायत दर्ज कराई है। 

बता दें कि टीकमगढ़ से लगे हुए उत्तर प्रदेश के जनपद ललितपुर के गांव धोबिन खेरी गांव के रहने वाले बुजुर्ग लीला रैकवार (60) अपनी बेटी के पास बड़ागांव नगर आए थे, जहां पर उनकी तबीयत बिगड़ गई। इसके बाद उन्हें बड़ागांव के एक निजी क्लीनिक में दिखाया गया, जहां पर डॉक्टर ने उनको एक इंजेक्शन दिया। इसके बाद उनकी हालत बिगड़ने लगी तो परिजन उन्हें सरकारी अस्पताल बड़ागांव ले गए। यहां पर हालत गंभीर होने पर उन्हें टीकमगढ़ जिला चिकित्सालय रेफर किया गया। 108 एंबुलेंस टीकमगढ़ जिला चिकित्सालय लेकर पहुंची, लेकिन हालात गंभीर को देखते हुए टीकमगढ़ से झांसी मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया। लेकिन रास्ते में उसकी मौत हो गई। इसके बाद परिजन लाश को लेकर टीकमगढ़ जिला चिकित्सालय पहुंचे। जहां पर पुलिस को सूचित किया गया और पुलिस ने पंचनामा की कार्रवाई करने के बाद लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। 

परिजनों का आरोप

मृतक के दामाद राजेश ने  बताया कि अचानक तबीयत बिगड़ने पर निजी क्लीनिक में बड़ागांव में दिखाया था, लेकिन डॉक्टर द्वारा उन्हें गलत इंजेक्शन दे दिया गया जिसके बाद उनकी हालत लगातार बिगड़ती गई। उन्होंने बताया कि मौत हो जाने के बाद उन्होंने इसकी सूचना पुलिस चौकी जिला चिकित्सालय में दी है और अपने बयान दर्ज कराए हैं। उन्होंने बताया कि इस पूरे मामले में निजी क्लीनिक का डॉक्टर आरोपी है, जिसके द्वारा गलत इंजेक्शन लगाने के कारण मेरे ससुर की मौत हुई है।

पुलिस चौकी के प्रभारी नोने सिंह ने बताया कि इस मामले में पंचनामा की कार्रवाई करने और मर्ग कायम करने के बाद लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और परिजनों के बयान दर्ज किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि परिजनों के बयानों के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *