[ad_1]

victims of land dispute have been making rounds of  collectorate for 14 years

पीड़ित यशवंत
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


माथे पर चिंता की लकीरें, आंखों पर चश्मा, लंबी सफेद दाढ़ी, बदन पर धारीदार शर्ट और पैंट, दुबली-पतली देह और पांव में हवाई चप्पल। नाम यशवंत, यह 14 साल से कलेक्ट्रेट में अफसरों के दफ्तर की चक्कर काट रहे हैं। इस उम्मीद में कि उसे जमीन विवाद में न्याय मिलेगा। पूछने पर उन्होंने कहा कि कोई सुनवाई नहीं हो रही भाई साहब… क्या करें, आत्महत्या कर लें।

 

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *