[ad_1]

up board 1899 examiners checked 73 thousand copies in seven hours

यूपी बोर्ड परीक्षा कॉपी का मूल्यांकन करते शिक्षक।
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


तीन दिन के अवकाश के बाद यूपी बोर्ड परीक्षा की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन में तेजी आई। जिले के चार केंद्रों पर 1899 परीक्षकों ने बुधवार को सात घंटे में 72815 कॉपियों का मूल्यांकन किया। इस दौरान हाईस्कूल की 43807 और इंटरमीडिएट की 29008 काॅपियां जांची गईं। आवंटित 2922 परीक्षकों में से 1023 अनुपस्थित रहे। अब लगभग 91 हजार कॉपियों का मूल्यांकन होना बाकी है।

यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन जिले के चार केंद्रों पर चल रहा है। इनमें महाबोधि इंटर कॉलेज सारनाथ और भारतीय शिक्षा मंदिर इंटर कॉलेज को हाईस्कूल जबकि राजकीय क्वींस इंटर कॉलेज और प्रभु नारायण इंटर कॉलेज रामनगर को इंटरमीडिएट की उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन के लिए केंद्र बनाया गया है। 

16 मार्च से चल रहे मूल्यांकन के दौरान अब तक 4.58 लाख से अधिक कॉपियों का मूल्यांकन हो चुका है। जिले में कुल 5.51 लाख काॅपियां जांचनी हैं। इनमें लगभग 3.17 लाख कॉपियां हाईस्कूल और 2.34 लाख इंटरमीडिएट की है। बुधवार तक हाईस्कूल की 262796 और इंटरमीडिएट की 195624 कॉपियों का मूल्यांकन हो चुका था। 31 मार्च मूल्यांकन पूर्ण होने की अंतिम तिथि है।

जिला विद्यालय निरीक्षक अवध किशोर सिंह ने कहा कि मूल्यांकन कार्य सुचारु रूप से चल रहा है। समय पर काम पूरा कर लिया जाएगा। अवकाश पर गए शिक्षकों के स्थान पर नए शिक्षकों की ड्यूटी लगा दी गई थी।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *