[ad_1]

Farmer murdered for asking for borrowed money

उधार के रुपये मांगने पर किसान की हत्या
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


20 मार्च की सुबह भाटपचलाना क्षेत्र के गांव बालोदा लक्खा में खेत में किसान किशन सिंह राजपूत का शव मिला था। किसान खेत में लहसुन की फसल की सुरक्षा करने गया था। अज्ञात व्यक्ति के द्वारा सिर में गंभीर चोट पहुंचाकर हत्या कर दी थी। जांच में सामने आया था कि हत्या किसी बाहरी व्यक्ति ने नहीं की है। पुलिस ने इसी बिंदु पर जानकारी निकाली तो पता चला कि पड़ोसी किसान गोविंदसिंह राजपूत ने अपनी मां के नाम पर दर्ज जमीन गिरवी रखकर किशनसिंह से साढ़े चार लाख रुपये उधार लिए थे।

इसके बाद पुलिस ने गोविंद को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो पहले तो वह पुलिस को गुमराह करता रहा, लेकिन सख्ती से पूछताछ करने पर उसने बताया कि किशनसिंह ने पूर्व में भी उसके परिवार की मदद की थी। हालांकि उसके बदले किसान ने नौ बीघा जमीन कम दाम पर खरीद ली थी। जनवरी में ही उसने ढाई बीघा का अनुबंध कर साढ़े चार लाख रुपये उधार लिए थे। जिसे वापस देने के लिए किशनसिंह दबाव बना रहा था।

रिश्तेदार को झूठा फंसाना चाहता था

एसपी प्रदीप शर्मा ने बताया कि पूछताछ में आरोपी गोविंद ने बताया कि उसने ही 19 मार्च की रात को किशनसिंह को सोते समय सिर पर फावड़ा मारकर मौत के घाट उतार दिया था। हत्या के मामले में वह अपने एक रिश्तेदार को झूठा फंसाना चाहता था। उसका रिश्तेदार वर्ष 2016 में हुई हत्या के मामले में जेल में सजा काट रहा है। हाल ही में वह पैरोल पर जेल से छूटकर आया था, लेकिन ऐसा नहीं हो सका।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *