Ujjain News City feast of Lord Shiva-Maa Parvati marriage will be held on Tuesday

नगर भोज के लिए आमंत्रण देते हुए
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


आठ मार्च को महाशिवरात्रि में शिव विवाह की रस्म निभाने के बाद मंगलवार (19 मार्च) को महाकाल का रिसेप्शन नगर भोज होगा। इसमें पूरे शहर को आमंत्रित किया गया है। खास बात यह है कि आमंत्रण में नगर भोज के लिए जो आमंत्रण बांटे गए हैं, उनमें स्वागतातुर तैतीस करोड़ देवी-देवता और दर्शनाभिलाषी रिद्धि-सिद्धि संग भगवान गणेश और शिव के परिवार को बनाया गया है। कार्यक्रम रामघाट के पास महाकाल मंडपम में आयोजित किया जाएगा।

शिव विवाह के लिए आयोजित इस कार्यक्रम में एक गणपति पूजन से लेकर हल्दी, मेहंदी, महिला संगीत और भूत पिशाच के डांस बारात निकालने तक का इंतजाम किया गया है। महाशिवरात्रि के त्योहार के बाद शिव-पार्वती विवाह की बारात और रिसेप्शन की परंपरा उज्जैन में निर्वहन की जाती है।सोमवार से इस महाभोज के लिए तैयारी शुरू हो गई।

वहीं, श्रद्धालु शहर में शिव विवाह की पत्रिका बांटने भी निकले हैं। नगर भोज में 40 से 50 हजार भक्तों के आने की उम्मीद है। रिसेप्शन में सब्जी, पूरी, खीर, खोपरापाक के साथ गन्ने का रस, शिकंजी, पानी पतासी और पान भी खाने को मिलेगा। 50 हजार लोगों के लिए बनने वाली भोजन प्रसादी में 70 डिब्बे तेल, 40 क्विंटल आटा, 10 क्विंटल आलू, चार क्विंटल टमाटर, डेढ़ क्विंटल मटर, पांच क्विंटल का पुलाव, 10 क्विंटल गन्ना, दही की लस्सी के लिए पांच क्विंटल दही सामान लगेगा। जो की कार्यक्रम स्थल तक पहुंच चुका है। इसके साथ भगवान के लिए 56 भोग भी बनेगा। आज से करीब 10 से अधिक भट्टियों पर खाना बनाना शुरू हो गया है। इसके साथ है 800 से अधिक लोग अलग-अलग कार्य में लगे हैं, जिन्हें अलग-अलग जिम्मेदारी दी गई है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *