[ad_1]

Gwalior criminal was shot during robbery in Bengaluru died during treatment

मामले की जानकारी देते हुए पुलिस
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


ग्वालियर शहर पुलिस और कर्नाटक की बेंगलुरु क्राइम ब्रांच ने एक जॉइंट ऑपरेशन में चार लुटेरों को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से पिस्टल कट्टा और दर्जन भर से ज्यादा जिंदा राउंड बरामद किए गए हैं। इन बदमाशों ने दो दिन पहले यानी 14 मार्च को बेंगलुरु के कोडिगेहल्ली थाना क्षेत्र के देव नगरा में स्थित लक्ष्मी ज्वेलर्स पर डकैती की वारदात को अंजाम दिया था।

इन बदमाशों ने वारदात के दौरान लक्ष्मी ज्वेलर्स के दो कर्मचारियों को गोली मार दी थी। भागते समय एक बदमाश का कट्टा वहीं गिर गया था, जिस पर दुकान के कर्मचारी ने उसी कट्टे से एक बदमाश पर फायर कर दिया, जो उसके गले में लगा। लेकिन इसके बावजूद आरोपी वहां से किसी तरह भाग निकले और पहले ट्रक फिर कर्नाटक एक्सप्रेस से ग्वालियर के लिए सवार हो गए। लेकिन बेंगलुरु पुलिस इन बदमाशों के पीछे लगी हुई थी। 

इस बीच ग्वालियर पुलिस को भी इन बदमाशों के ट्रेन से वहां पहुंचने की सूचना मिल चुकी थी। पुलिस ने जाल बिछाकर ट्रेन और स्टेशन के बाहर से इन बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया, जिस बदमाश को गले में गोली लगी है, उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां सोमवार को उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई है।

इस सनसनीखेज वारदात का खुलासा करते हुए एडिशनल एसपी शियाज केएम ने बताया कि यह सभी बदमाश मुरैना के रहने वाले हैं। इनका एक साथी बेंगलुरु में टाइल्स लगाने का काम करता था। उसी ने लक्ष्मी ज्वेलर्स के यहां रेकी करके इन बदमाशों को लूट में बड़ा माल हाथ लगने का लालच दिया था। साजिश के मुताबिक, ये लोग वहां पहुंच गए और उन्होंने किराए की मोटरसाइकिल लेकर इस वारदात को अंजाम दिया। सूरज तोमर के गले में गोली लगी है। इस मामले में बंटी उर्फ प्रदीप शर्मा, राधा रमन शर्मा और कान्हा शर्मा गिरफ्तार किए गए हैं। जबकि विकास शर्मा पुलिस के हाथ नहीं आया है।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *