[ad_1]

UP: Tough test for political parties in Moradabad division, political equations changed this time

मुरादाबाद मंडल की लोकसभा सीट
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


लोकसभा चुनावों का एलान हो गया है। मुरादाबाद मंडल की छह लोकसभा सीटों पर पहले तीन चरणों में चुनाव होगा। मंडल की इन छह लोकसभा सीटों पर सियासी दलों का कड़ा इम्तिहान होगा। वजह यह है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को मंडल की सभी छह लोकसभा सीटों पर जीत मिली थी। 2019 में भाजपा को मंडल की छह में छह सीटों पर शिकस्त का सामना करना पड़ा था।

भाजपा जहां 2014 का इतिहास दोहराने की कोशिश करेगी, वहीं सपा-बसपा 2019 का। चुनावी रणभेरी बज गई है। इस बार सियासी समीकरण कुछ अलग हैं। 2019 के लोकसभा चुनाव में सपा-बसपा ने जहां एक साथ मिलकर चुनाव लड़ा था। वहीं इस बार उनकी राहें जुदा हैं। बसपा सभी लोकसभा सीटों पर अपना प्रत्याशी उतारेगी।

 

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *