[ad_1]

MP LS Election: When BJP started reaching door to door, Congress got involved in stampede

लोकसभा चुनावों के लिए भाजपा-कांग्रेस भी तैयार
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


लोकसभा चुनावों का बिगुल बज चुका है। मध्य प्रदेश की 29 लोकसभा सीटों के लिए चार चरणों में चुनाव होंगे। बात करें कि राजनीतिक दलों की तैयारियों की तो भाजपा काफी आगे नजर आ रही है। भाजपा घरों में दस्तक देने लगी है तो कांग्रेस पार्टी में मची भगदड़ रोकने और अपने प्रत्याशियों को तलाशने ही व्यस्त दिख रही है। वहीं समाजवादी पार्टी को कांग्रेस ने एक सीट दी है, जहां सपा की कोई तैयारी फिलहाल नजर नहीं आ रही। 

सबसे पहले जानते हैं मप्र में कब-कब हैं चुनाव

बता दें कि चुनाव आयोग ने शनिवार को लोकसभा चुनावों की तारीखों का एलान कर दिया है। देशभर में सात चरणों में तो, मध्य प्रदेश में चार चरणों में चुनाव होना हैं। पहले चरण की वोटिंग 19 अप्रैल को होगी। इसमें छह सीटों पर मतदान होगा। दूसरे चरण का मतदान 26 अप्रैल को होना है। इस चरण में सात सीटों पर वोटिंग होगी। तीसरे चरण में 7 मई को वोटिंग होगी। इस चरण में आठ लोकसभा सीटों पर मतदान होगा। चौथे चरण का मतदान 13 मई होगा। इस चरण में आठ सीटों पर वोट डाले जाएंगे। चार जून को चुनाव परिणाम घोषित किए जाएंगे। 

टिकट वितरण की स्थिति भी समझ लीजिए

भाजपा ने प्रदेश की सभी 29 सीटों पर अपने प्रत्याशी घोषित कर दिए। जबकि कांग्रेस ने 10 सीटों पर टिकट डिक्लेयर किए हैं। कांग्रेस प्रदेश की 28 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। एक सीट खजुराहो समझौते के तहत समाजवादी पार्टी को दे ही है। कांग्रेस को कुछ सीटों पर प्रत्याशी चयन में ही दिक्कत आ रही है। बड़े नेता अब तक राज्य में संगठनात्मक रूप से सक्रिय कम ही दिखे हैं। भाजपा ने अपने लोकसभा समन्वयकों को हर लोकसभा में भेजकर आकलन किया। कांग्रेस ने भी प्रत्याशियों की लिस्ट तो तैयार की, लेकिन नाम घोषित नहीं किए। लक्ष्मण सिंह से लेकर तमाम बड़े नेता सवाल उठा रहे हैं कि नाम घोषित करने में देरी क्यों… 

 

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *