[ad_1]

Amar Ujala Nari Shakti Samman given to 22 women

अमर उजाला नारी शक्ति सम्मान से सम्मानित महिलाएं
– फोटो : संवाद

विस्तार


अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में शिक्षा, खेलकूद, उद्यम, समाजसेवा, राजनीति, चिकित्सा व कला-संस्कृति के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने वालीं 22 महिलाओं को अमर उजाला नारी शक्ति सम्मान से सम्मानित किया गया।

दीप प्रज्जवलन

6 मार्च को मैरिस रोड स्थित लॉ शेफ रेस्टोरेंट में सम्मान समारोह आयोजित हुआ। मुख्य अतिथि अपर जिलाधिकारी वित्त व राजस्व मीनू राणा ने महिलाओं को पटका ओढ़ाकर और प्रमाण पत्र भेंट कर उनका सम्मान किया। महिलाओं के सम्मान में खूब तालियां बजीं। इससे पहले सम्मानित महिलाओं ने अपने अनुभव साझा किए। उन्होंने कहा कि महिलाओं का समाज में वर्चस्व बढ़ रहा है। वह चाहे प्रशासनिक हो राजनीति। शिक्षा हो या चिकित्सा। कला हो या संस्कृति। उद्यम हो या नवाचार। समाज में महिलाओं के सामाजिक योगदान की स्वीकार्यता बढ़ी है। कार्यक्रम का संचालन चंद्रिका अग्रवाल ने किया।

नारी सम्मान

महिलाएं अबला नहीं, सशक्त हैं : मीनू राणा

नारी शक्ति सम्मान समारोह की मुख्य अतिथि अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) मीनू राणा ने कहा कि शक्ति महिलाओं में है, बस यह उनको जानना है कि हम अबला नहीं हैं और किसी से कम नहीं हैं, बल्कि हम सशक्त हैं। इसको समाज को भी स्वीकारना जरूरी है। महिलाओं को विशेष नहीं, बस बराबर सम्मान और अवसर की आवश्यकता है। पुरुष और महिला साइकिल के पहिये हैं, जब दोनों बराबर चलेंगे, तभी साइकिल रूपी परिवार आगे बढ़ेगा। आधी आबादी महिला है, अगर यह विकास में साथ जुड़ जाएगी, तो देश एक नई ऊंचाई छुएगा। अब समाज भी बदल रहा है, परिवार में लड़कियों पर रोक-टोक कम हो रही है, लड़कों को भी समझाया जा रहा है कि उन्हें लड़कियों का सम्मान करना है। महिलाएं परिवार संभालने के साथ-साथ आर्थिक रूप से भी आत्मनिर्भर हो रही हैं, इस तरह से महिलाओं की ताकत दोगुनी हो गई है। महिलाएं केवल सहयोग भर की उम्मीद रखती हैं न कि यह चाहती हैं कि पूरा काम पुरुष ही करें।

अमर उजाला नारी शक्ति सम्मान समारोह का आयोजन सराहनीय रहा। इस तरह के आयोजन होते रहना चाहिए। -वैभव राज सिंह, मालिक, ला शेफ रेस्टोरेंट

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *