[ad_1]

Former MLA Vinay Shankar Tiwari's son not presented in front of ED.

– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


बैंकों का 754 करोड़ रुपये हड़पने के मामले के आरोपी पूर्व विधायक विनय शंकर तिवारी के पुत्र कंदर्प तिवारी ईडी के सामने पेश नहीं हुए। ईडी ने उन्हें सोमवार को पूछताछ के लिए तलब किया था। सूत्रों के मुताबिक कंदर्प ने ईडी को पत्र लिखकर आने में असमर्थता जताई है। साथ ही शुक्रवार को पेश होने की बात कही है।

मालूम रहे कि विनय तिवारी की कंपनी गंगोत्री इंटरप्राइजेस ने बैंकों के कंसोर्टियम से 1144 करोड़ रुपये का कर्ज लिया था। जिसमें से 754 करोड़ रुपये वापस नहीं करने पर बैंकों ने सीबीआई से शिकायत की थी। सीबीआई ने इस मामले का केस दर्ज कर लिया था, जिसके आधार पर ईडी ने भी जांच शुरू कर दी थी।

ईडी ने हाल ही में विनय तिवारी, उनकी कंपनी और करीबियों के ठिकानों पर छापा मारने के बाद उन्हें तलब कर पूछताछ की थी। विनय तिवारी के साथ उनकी पत्नी रीता तिवारी को भी तलब किया था, लेकिन वह पेश नहीं हुई थीं। उनके बेटे कंदर्प तिवारी को सोमवार को बुलाया गया था।

ईडी की जांच में सामने आया है कि गंगोत्री इंटरप्राइजेस ने बैंकों की कुछ रकम को कंदर्प होटल प्राइवेट लिमिटेड में डायवर्ट किया। कंदर्प होटल बैंकों से कर्ज लेने के दौरान कॉरपोरेट गारंटर बनी थी। वहीं, कंदर्प तिवारी के नाम से कई जमीनों को भी खरीदा गया था।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *