Fake bill for spare parts Liquor worth Rs 72 lakh was in the truck Caught before reaching Bihar

ट्रक के अंदर रखी शराब की पेटियां।
– फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी

विस्तार


फिरोजाबाद में फर्जी स्पेयर पार्ट्स का बिल दिखाकर चंडीगढ़ से तस्करी कर बिहार ले जाई जा रही शराब की बड़ी खेप को एसओजी और उत्तर पुलिस ने पकड़ा है। एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस माफिया की तलाश में जुटी है। बिहार के सप्लायर से माफिया ने 802 पेटी अंग्रेजी शराब का सौदा 1.80 करोड़ रुपये में तय किया था। वहीं पकड़ी गई शराब की कीमत प्रदेश में 72 लाख रुपये आंकी गई है।

लोकसभा चुनाव को लेकर एसएसपी सौरभ दीक्षित के निर्देशन में अवैध कार्यों की रोकथाम जारी है। एसपी सिटी सर्वेश कुमार मिश्र ने बताया कि चंडीगढ़ से छह चक्का ट्रक में अलग-अलग ब्रांड की अंग्रेजी शराब की 802 पेटी थाना उत्तर और एसओजी ने पकड़ी हैं। चंड़ीगढ़ से बिहार शराब ले जाने की सूचना पर एसओजी प्रभारी अनुज राणा और एसओ वैभव सिंह, एसएसआई महावीर सिंह ने नबाब डिग्री काॅलेज के समीप चेकिंग के दौरान पकड़ा है। साथ ही बहादुरगढ़ झझ्झर के दहतौरा निवासी बलवान उर्फ बल्लू को भी गिरफ्तार किया है। पकड़ी गई शराब की डिलेवरी बिहार होनी थी। जहां सौदा 1.80 करोड़ रुपये में तय हुआ था। इसके पास से दो मोबाइल, छह चक्का ट्रक भी बरामद किया गया है।

चकमा देने के लिए बनवाए थे फर्जी स्पेयर पार्ट्स के दस्तावेज

एसपी सिटी ने बताया कि अंतरराज्यीय शराब माफिया राजस्थान अलवर के बहरोड निवासी जितेंद्र सैनी ने पुलिस को चकमा देने के लिए स्पेयर पार्ट्स के फर्जी दस्तावेज तैयार कराए थे। साथ ही चालक बलवान को एक मोबाइल दिया था। जिसके व्हाट्सएप पर रूट दिया जाता था कि किस रूट से ट्रक ले जाना है।

बिहार में बंदी के कारण बढ़ी शराब की मांग

बिहार सरकार द्वारा शराब बिक्री और भंडारण पर पूरी तरह रोक लगा दी गई है। इसके चलते वहां शराब की अधिक मांग है। लोग शराब के लिए मुंह मांगे दाम देने को भी तैयार रहते हैं। इसलिए ज्यादातर शराब की सप्लाई बिहार में की जाती है। वहां दाम भी अच्छे मिलते हैं। यह लोग मिलकर चंडीगढ़, पंजाब, उत्तर प्रदेश, गुजरात, बिहार और अन्य राज्यों में शराब की सप्लाई करते हैं।

 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *