[ad_1]

Ujjain News: Miscreants devised a new method of robbery, kidnapped an old woman and snatched her gold chain

उज्जैन में वृद्धा का अपहरण किया गया। फिर उसके साथ लूट की वारदात को अंजाम दिया गया।
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


धार्मिक नगरी उज्जैन में अपराधियों ने अपराध करने के नए-नए तरीके अपनाना शुरू कर दिए हैं। अब तक लूट की वारदात धारदार हथियारों के बल पर होती थी लेकिन सोमवार की रात को शहर में लूट की एक ऐसी वारदात हुई जिसमें अपराधियों ने पहले एक वृद्धा का अपहरण किया। फिर वृद्धा के साथ मारपीट की और सोने की चूड़ी, टॉप्स और चैन छीनकर सुनसान इलाके में छोड़कर भाग गए। 

पूरा मामला कुछ इस प्रकार है कि वेदनगर में रहने वाली शकुंतला पति स्व. जगदंबा प्रसाद पांडे, 74 वर्ष, रोजाना की तरह ही सोमवार रात को हनुमान मंदिर दर्शन करने गई थी। जहां से वह पैदल घर की और लौट रही थी, तभी एक कार से दो बदमाश बाहर निकले। उन्होंने वृद्धा का मुंह दबाया। गाड़ी में बिठाकर गायब हो गए। शकुंतला पांडे अपने साथ हुई इस घटना के बारे में कुछ समझ पाती, उससे पहले दोनों बदमाशो ने उन्हें धमकाया। अपने साथ लेकर चले गये। बदमाश वृद्धा को चिंतामण ब्रिज मार्ग भूखी माता मंदिर क्षेत्र में लेकर पहुंचे। वहां उन्होंने वृद्धा को सोने के आभूषण के लिए मारना शुरू किया। इस मारपीट से घबराई वृद्धा के गले से सोने की चेन, कान के टॉप्स छीन लिए। हाथ की चूडियां भी उतरवा ली। सोने के आभूषण मिलते ही दोनों बदमाशो ने उन्हें गाड़ी का दरवाजा खोलकर बाहर पटक दिया और भाग गए। सूनसान रास्ते पर पड़ी वृद्धा को वहां से गुजर रहे पुलिसकर्मी मनीष ने देखा। पूछताछ की तो वृद्धा ने अपने साथ हुई घटना की जानकारी दी। इसके बाद मनीष ने परिजनो का नबंर लेकर कॉल किया और सूचना दी। 

सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही नानाखेड़ा थाना पुलिस

नानाखेड़ा थाना के एसआई सुरेश कलेश ने बताया कि इस मामले में क्षेत्र में लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगालाना शुरू किए हैं। साथ ही हम यह जानकारी भी जुटा रहे हैं कि अपहरणकर्ता किस रास्ते से वृद्धा को लेकर भूखी माता मंदिर तक पहुंचे थे। 

चप्पल मिली तो घबरा गई थी बेटी स्मृति

जब शकुंतला पांडे मंदिर से दर्शन कर घर नहीं पहुंची तो बेटी स्मृति ने अपने बच्चों को नानी को देखने के लिए मंदिर तक भेजा था। बच्चों को नानी तो नजर नहीं आई लेकिन रास्ते मे उनकी चप्पल जरूर दिखाई दी थी। इसकी जानकारी उन्होंने घर पर दी। इसके बाद स्मृति ने परिवार के अन्य सदस्यों को इस बारे में बताया। किसी दुर्घटना और तबीयत खराब होने की आशंका में निजी अस्पतालों में उनकी तलाश करने का प्रयास किया था। 

बेटी ने बताया – सोने की चेन और टॉप्स ले गए अपहरणकर्ता

बेटी स्मृति ने बताया कि मां का अपहरण कर ले गए बदमाशों ने उनके साथ मारपीट करते हुए सोने की चेन और टॉप्स लूट लिए। इन बदमाशों ने मां के हाथों के कंगन भी निकलवा लिए थे। यह पीतल के थे। यह बेहद गंभीर घटना है पुलिस को इस मामले मे सख्ती से एक्शन लेना चाहिए। 

चार टीमें कर रही है लुटेरों की तलाश

एएसपी गुरुप्रसाद पाराशर ने बताया कि जिस तरह महिला कॉलोनी के अंदर मंदिर जाते समय अपहरण किया गया, यह लगता है कि अपहरणकर्ताओं ने पहले रेकी की थी। फिर इस घटना को अंजाम दिया है। पुलिस ने क्षेत्र में लगे सीसीटीवी कैमरे के वीडियो जब्त कर लिए हैं। इसमें दो बदमाश दिखाई दे रहे हैं। चार टीमें बनाकर रवाना कर दी गई है। सभी मागों के कैमरा फुटेज खंगाले जा रहे हैं। 

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *