Threat to DPRO in the name of Union Minister SP Singh Baghel

हाथरस जिला पंचायतराज अधिकारी सुबोध जोशी
– फोटो : संवाद

विस्तार


हाथरस के अपर मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट इंद्रेश के न्यायालय ने केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री एसपी सिंह बघेल के नाम से जिला पंचायतराज अधिकारी सुबोध जोशी को धमकी देने और अभद्रता करने के मामले में अज्ञात के विरुद्ध थाना अध्यक्ष मुरसान को मुकदमा दर्ज कर विवेचना किए जाने के आदेश दिए हैं। यह मामला काफी सुर्खियों में रहा था। 

       

जिला पंचायतराज अधिकारी सुबोध जोशी ने न्यायालय में सीआरपीसी की धारा 156 (3) के तहत अपने अधिवक्ता योगेश कुमार एडवोकेट के माध्यम से प्रार्थना पत्र दाखिल किया था। अधिवक्ता योगेश कुमार ने बताया कि डीपीआरओ ने प्रार्थना पत्र के माध्यम से कहा था कि वह जिला पंचायतराज अधिकारी के पद पर जनपद में तैनात हैं। 18 जनवरी 2024 को ग्राम पंचायत इसौंदा विकास खंड सहपऊ का निरीक्षण किया गया था। निरीक्षण के समय निर्मित पंचायत सचिवालय बंद पाया गया। ग्राम सचिवालय किसी अज्ञात व्यक्ति के स्थान पर नियम विरुद्ध तरीके से संचालित किया जा रहा था। यहां पंचायत सहायक भी मौके पर मौजूद मिलीं। इसके साथ ग्राम पंचायत इसौंदा में निर्मित आरसीसी के निरीक्षण में घटिया ईंट एवं सामग्री का उपयोग किया जाना पाया गया।

 

निरीक्षण के उपरांत विकास खंड सादाबाद से मुख्यालय वापसी के दौरान 18 जनवरी 2024 को शाम 06.06 बजे  मोबाइल नंबर-9756368888 से मेरे  मोबाइल नंबर पर दो कॉल प्राप्त हुई। व्यस्तता के कारण कॉल अटैंड नहीं हो सकी। पुनः 6.09 बजे पर इस मोबाइल नंबर से कॉल आई। किसी अज्ञात व्यक्ति ने कहा कि प्रोफेसर एसपी सिंह बघेल बात करेंगे। वार्ता करने वाले ने अपना राजनीतिक परिचय देते हुए कहा कि मैं एसपी सिंह बघेल केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री भारत सरकार बोल रहा हूं। ग्राम प्रधान इसौंदा का आपके द्वारा निरीक्षण किया गया है। प्रधान के खिलाफ कोई भी कार्रवाई न की जाए। जवाब में उन्होंने कहा कि नियमानुसार जितनी मदद हो सकेगी, मैं करूंगी।  तब उन्होंने फोन पर धमकाया कि अगर तुम प्रधान की जांच कर सकती हो तो मैं भी तुम्हारी जांच करा सकता हूं। 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *