[ad_1]

Chief Minister Mohan Yadav performed Bhoomi Pujan and inaugurated Ujjain development works.

उज्जैन में मुख्यमंत्री मोहन यादव।
– फोटो : Amar Ujala Digital

विस्तार


अच्छे काम की जब शुरुआत की जाती है तो लोग अपने आप जुड़ते चले जाते हैं। हमारी संस्कृति में दीप प्रज्ज्वलन करने की विशेष परंपरा है। दीप ज्योति हमें परमात्मा से जोड़ती है। हमारे देश में हर काम की शुरुआत दीप प्रज्ज्वलन से की जाती है। आगामी 9 अप्रैल को गुड़ी पड़वा, नवत्सर एवं उज्जैन गौरव दिवस के अवसर पर शिवज्योति अर्पणम कार्यक्रम में सभी सहभागी बनकर दीप प्रज्ज्वलन करें और हमारी धार्मिक, सांस्कृतिक परम्परा को समृद्ध करें। 

शिव ज्योति अर्पणम कार्यक्रम में सभी उज्जैनवासी सहभागी बनकर अपने आपको वर्ल्ड रिकार्ड बनाने में सहयोग कर गौरवान्वित महसूस करें। ये बात प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ.मोहन यादव ने दीपोत्सव कार्यक्रम 9 अप्रैल हेतु परामर्शदात्री समिति की बैठक में कही। 

उन्होंने बताया कि इसके लिए 27 लाख दीप प्रज्ज्वलित करने का लक्ष्य रखा गया है। 25 हजार वॉलेंटियर, 200 से अधिक सामाजिक संगठन, एनएसएस, एनसीसी के छात्र, सामाजिक कार्यकर्ता, आमजन मिलकर शिप्रा नदी के सभी घाटों पर दीप प्रज्जवलन करेंगे। इस बार भूखी माता मन्दिर घाट पर भी दीप प्रज्जवलन किया जाएगा। रामघाट पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन होगा। सार्वजनिक स्थलों एवं घर-घर दीप प्रज्ज्वलन कर इस दीपोत्सव को उज्जैनवासी यादगार बनाएंगे।

राजा विक्रमादित्य से की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना

बैठक के दौरान मुख्यमंत्री डॉक्टर मोहन यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तुलना राजा विक्रमादित्य से की आपने कहा कि उज्जैन को एक ऐसा राजा मिला जो देश ही नहीं विश्व में भी उज्जैन को गौरवान्वित महसूस करने का सौभाग्य देता है। विक्रमादित्य को विपरीत परिस्थितियों को अपने पक्ष में कर लेने की खासियत की वजह से विक्रमादित्य नाम मिला था। 

डॉ. यादव ने विक्रमादित्य के गौरवशाली इतिहास को बताते हुए उनके संघर्ष और सुयश के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि आज देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी विक्रमादित्य की तरह ही पूरी दुनिया का ध्यान भारत की ओर खींच रहे हैं। रूस और अमेरिका जैसे महाशक्तिशाली देश भी आज सनातन संस्कृति की वजह से भारत का अनुसरण करते नजर आ रहे हैं। इसका श्रेय देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व को जाता है। मोदी जी जियो और जीने दो का मंत्र लेकर काम कर रहे हैं। उनके अनुसरण में हम भी हमारी संस्कृति को आगे बढ़ाने में सहभागी बनें।

इस्कॉन मे श्री भक्तिचारूजी महाराज की समाधि का अनावरण किया

प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ.मोहन यादव ने उज्जैन प्रवास के दौरान इस्कॉन की स्थापना की 18वी वर्षगांठ पर श्री भक्तिचारू महाराज की समाधि का अनावरण किया। मुख्यमंत्री ने सर्वप्रथम इस्कॉन मन्दिर पहुंचकर श्री राधा मदनमोहन के दर्शन किये और आरती की। इसके पश्चात अनावरण कार्यक्रम में शामिल हुए। साथ ही इस्कॉन मन्दिर में प्रारम्भ किये गये निरामिश व सात्विक भोजन के उपहार गृह ‘गोविंदम फूड्स’ का शुभारम्भ भी किया गया। इस दौरान मुख्यमंत्री बनने के पश्चात डॉ.मोहन यादव के प्रथम बार इस्कॉन मन्दिर आने पर मन्दिर की ओर से उनका अभिनन्दन भी किया गया। इस्कॉन मन्दिर द्वारा मुख्यमंत्री का सम्मान शाल, श्रीफल और स्मृति चिन्ह भेंटकर किया गया। इस अवसर पर इस्कॉन मन्दिर के वासुघोष प्रभु, उदयानंद प्रभु, इस्कॉन उज्जैन के भक्तिप्रेम स्वामी महाराज, भक्तिआश्रय वैष्णव महाराज एवं अन्य गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

     

इन विकास कार्यों का किया भूमिपूजन और लोकार्पण 

प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने उज्जैन प्रवास के दौरान विभिन्न विकास कार्यों का भूमिपूजन और लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री के मुख्य आतिथ्य में 91.962 लाख रुपये की लागत से शासकीय महाविद्यालय तराना में विश्व बैंक परियोजना के अन्तर्गत प्रयोगशाला भवन का निर्माण और जीर्णोद्धार कार्य का लोकार्पण, विकास खण्ड खाचरौद के अन्तर्गत 8.31 करोड़ रुपये की लागत से ग्राम लुसड़ावन, केसरिया, डोडिया, सकतखेड़ी, बनबना, बोरखेड़ा पित्रामल, जलोदिया जागीर, पिपल्याशीष, हताई एवं अंतरालिया की नल जल योजना (जल जीवन मिशन) का लोकार्पण, विकास खण्ड उज्जैन के अन्तर्गत 83 लाख रुपये की लागत से ग्राम करोंदिया की नल जल योजना (जल जीवन मिशन) का लोकार्पण, मुख्यमंत्री नगरीय अधोसंरचना तृतीय चरण के अन्तर्गत 6 करोड़ रुपये की लागत से सिंधी कॉलोनी से हरिफाटक ओवर ब्रिज तक सेंट्रल लाईटिंग रोड डिवाइडर कार्य का भूमिपूजन, शिप्रा विहार स्थित नक्षत्र उद्यान में एक करोड़ रुपये की लागत से विकास कार्यों का भूमिपूजन, त्रिवेणी स्थित शनि मन्दिर के पास स्थित शासकीय रिक्त भूमि पर 3.62 करोड़ रुपये की लागत से पार्किंग/पब्लिक शेड निर्माण कार्य का भूमि पूजन, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अन्तर्गत तराना विधानसभा क्षेत्र में 6.08 करोड़ रुपये की लागत के एमआरएल 2 -कायथा-खारपा-तराना मार्ग, ब्रिज (लम्बाई 135 मीटर) का भूमि पूजन किया गया। 

राज्यसभा सांसद बालयोगी उमेशनाथ जी का किया स्वागत सम्मान

भारतीय जनता पार्टी नगर उज्जैन द्वारा बालयोगी संत श्री उमेशनाथ महाराज के राज्यसभा सांसद के दायित्व पर निर्विरोध निर्वाचित होने के उपलक्ष्य में स्वागत एवं सम्मान कार्यक्रम मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव एवं समस्त जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में भाजपा कार्यालय, लोकशक्ति भवन पर आयोजित किया गया। कार्यक्रम के पश्चात मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने वार्ड 38 के बूथ क्र 58 में वाल पेंटिंग की।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *