police sent to postmortem house of artisans without doctor advice after silver plant accident in Agra

नमक की मंडी में चांदी प्लांट हादसे के बाद एकत्र भीड़ व मौके पर पहुंची पुलिस
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


उत्तर प्रदेश के आगरा में कमिश्नरेट पुलिस ने एक बार फिर लापरवाही की। नमक की मंडी में गैस रिसाव से दो कारीगरों बेसुध मिले। पुलिस दोनों को इमरजेंसी ले जाने की बजाय लोडिंग टेंपो से सीधे पोस्टमार्टम गृह पहुंचा दिया। परिजन के हंगामा करने पर वहां से इमरजेंसी लाया गया। दोनों की मौत की पुष्टि होने पर दोबारा पोस्टमार्टम गृह भेजा गया।

यह कोई पहला मामला नहीं है, जब शवों को लोडिंग टेंपो से ले जाया गया। लॉयर्स कॉलोनी में पाइप कंपनी के मैनेजर तरुण चौहान ने बेटे और मां की हत्या के बाद आत्महत्या कर ली थी। तीन शवों को ले जाने के लिए पुलिस ने लोडिंग टेंपो को बुलाया था। मामले में अधिवक्ता रमाशंकर शर्मा ने शिकायत की थी। शवों को ले जाने के लिए किसी वाहन की व्यवस्था का मुद्दा उठाया गया था। इसके बावजूद हालात नहीं बदले।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *