Indore: Shivraj's tenure was attacked from Indore, Mayor Bhargava said - Indore got 142 less because of dear s

मेयर पुष्य मित्र भार्गव।
– फोटो : amar ujala digital

विस्तार


शिवराज सरकार के कार्यकाल में लागू हुई लाड़ली बहना योजना को लेकर इंदौर के मेयर पुष्य मित्र भार्गव ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि लाड़ली बहना योजना के कारण इंदौर नगर निगम को चुंगी क्षतिपूर्ति की राशि में 142 करोड़ कम प्राप्त हुए,हालांकि उन्होंने बाद में बात संभालते हुए कहा कि उस पैसे से योजना से पंजीकृत महिलाएं व उनके परिवारों का उत्थान हो रहा है।

कांग्रेस उनके बयान को शिवराज सरकार के खिलाफ राजनीतिक हमले से जोड़कर देख रही है। परिषद सम्मेलन में मेयर द्वारा नगर निगम को पैसा कम मिलने की वजह बताई गई तो नेता प्रतिपक्ष चिंटू चौकसे ने इंदौर का पैसा रोकने के मामले में मुख्यमंत्री के खिलाफ निंदा प्रस्ताव लाने की मांग रख दी।

इस पर पंद्रह मिनिट तक हंगामा होता रहा। आपको बता दे कि लाड़ली बहना योजना के तहत प्रदेश की 1.30 करोड महिलाएं जुड़ी है। उनके खातों में प्रदेश सरकार हर माह 1250 करोड़ रुपये की राशि जमा कर रही है। अब तक 1250 रुपये की 9 किश्तें सभी लाड़ली बहनों के खाते में जमा हो चुकी है।

लाडली बहना के कारण इंदौर को 142 करोड़ कम मिले

 मेयर पुष्य मित्र भार्गव ने कहा कि वर्ष 2017 से 2024 तक प्रदेश के विभिन्न अनुदानों के रूप में 1653 करोड़ कम मिले। उन्होंने कहा कि लाडली बहना महिला वर्ग का लाभ प्रदेश की बहनों को मिल रहा है, लेकिन इस योजना के कारण नगर निगम को चुंगी क्षतिपूर्ति की राशि में 142 करोड़ कम प्राप्त हुए। मैंने इंदौर के हक के लिए पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान से राशि मांगी और मुख्यमंत्री मोहन यादव से भी पैसे मांगे हैं। नगर निगम पर 850 करोड़ कर्ज है, जो अब बढ़ चुका है, लेकिन मेरे प्रयास है कि मेरा कार्यकाल खत्म होने तक निगम आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनेगा।

मुख्यमंत्री ने इंदौर का पैसा रोका, उनके खिलाफ निंदा प्रस्ताव लाओ- चौकसे

नेता प्रतिपक्ष चिंटू चौकसे ने कहा कि प्रदेश सरकार चुंगी क्षतिपूर्ति की राशि पूरी नहीं दे रही है। इससे इंदौर का विकास अवरुद्ध है। मुख्यमंत्री मोहन यादव ने इंदौर का पैसा रोक रखा है। उनके खिलाफ सभी पार्षद मिलकर निंदा प्रस्ताव लाते है।

लाड़ली बहना योजना को लेकर भाजपा में दो फाड़- केके मिश्रा

कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष केके मिश्रा का कहना है कि लाड़ली बहना योजना को लेकर भाजपा में दो फाड़ हो चुकी है। एक धड़ा प्रदेश में भाजपा की जीत का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह को दे रहा है तो दूसरा धड़ा शिवराज सरकार की लाड़ली बहना योजना को दे रहा है। भाजपा पहले यह स्पष्ट करे कि योजना को लेकर उनका रुख क्या है?



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *