BJP leader Ruby Asif Khan threatened to kill CM Yogi in a letter written in blood

रूबी आसिफ खान को मिला धमकी भरा खून से लिखा पत्र
– फोटो : सोशल मीडिया

विस्तार


अक्सर सुर्खियों में रहने वालीं भाजपा नेत्री रूबी आसिफ खान को एक बार फिर धमकी भरा खून से लिखा पत्र मिला है। अबकी बार पत्र में राम मंदिर निर्माण की खुशी मनाने पर उन्हें व मुख्यमंत्री को बम से उड़ाने की धमकी दी गई है। खबर पर हरकत में आई पुलिस ने सीसीटीवी जांच के बाद मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने जांच में सर्विलांस टीम को भी लगाया है।

रोरावर इलाके में रहने वाली भाजपा नेत्री रूबी आसिफ खान के दरवाजे पर 4 फरवरी सुबह करीब सवा दस बजे किसी ने दस्तक दी। उस समय बारिश हो रही थी। रूबी के पति ने दरवाजा खोला तो परिचित महिला मिलने आई थीं। महिला अंदर आ गईं। उसी समय रोजाना की तरह समाचार पत्र भी दरवाजे पर पड़े मिले। उन्होंने समाचार पत्र उठाए, उन्हीं के नीचे एक पत्र पड़ा मिला। 

रूबी आसिफ खान के घर पर पत्र फेकता युवक सीसीटीवी कैमरे में कैद

उन्होंने कागज उठाकर देखा तो उस पर लाल रंग में खून जैसे तरल पदार्थ से धमकी लिखी थी। पत्र में लिखा है कि रूबी आसिफ खान तू राम मंदिर बनने की बहुत खुशी मना रही है। तुझे भी मार देंगे और बहुत जल्द तेरे परिवार को भी। साथ ही मुख्यमंत्री को भी धमकी दी गई। इस सूचना पर इलाका पुलिस के साथ-साथ सीओ प्रथम भी मौके पर पहुंच गए। 

रूबी के घर में लगे सीसीटीवी देखने में पता चला कि रात में एक डेढ़ बजे के बाद बुर्का पहने महिला दरवाजे पर यह पत्र डालकर गई है। उसने पत्र डालने के बाद सीसीटीवी की ओर भी देखा है, मगर चेहरा ढका हुआ है। सीओ प्रथम अभय पांडेय के अनुसार हालांकि गार्ड ड्यूटी पर रहता है। फिर भी सीसीटीवी के आधार पर मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। बाकी इस कृत्य को करने वाले तक पहुंचने के लिए साइबर टीम को भी लगाया गया है। 

धमकी मिलने का सिलसिला रूकने का नाम नहीं ले रहा है। अब तक मुझ पर दो बार हमला हुआ है। जिसमें एक बार बेटी को गोली लगी थी। धमकी वाला पत्र यह चौथी बार मिला है। ये बेहद चिंतनीय विषय है।-रूबी आसिफ खान, भाजपा नेत्री

सभी पत्रों की राइटिंग का होगा मिलान

सीओ के अनुसार पिछले दिनों मिले पत्र और इस बार मिले पत्र को जोड़कर नए सिरे से तथ्यों को देखा जा रहा है। साथ में पत्र और पोस्टर की राइटिंग का भी मिलान कराया जा रहा है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *