Ujjain Crime: ISKCON temple people accused of making the boy disappear

लापता युवक दिग्विजय और पिता।
– फोटो : Amar Ujala Digital

विस्तार


वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें



साहब मेरा पुत्र दो महीने से लापता है। महिदपुर थाने में दो महीने से उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट की है, लेकिन अभी तक बेटे का पता नहीं चल पाया है। वह उज्जैन में पढ़ाई के दौरान इस्कान वालों से जुड़ा था। इस्कान के अनीस प्रभु व प्रदुल प्रभु ने ही उसे गायब कर दिया। यह गंभीर आरोप लगाते हुए महिदपुर क्षेत्र के झूटावद गांव निवासी प्रभुलाल ने रोते हुए एसपी सचिन शर्मा से यह शिकायत की। 

एसपी सचिन शर्मा के सामने फफक-फफक कर रोए प्रभुलाल ने मीडिया से कहा कि पुत्र दिग्विजय उज्जैन विक्रम विश्वविद्यालय से एसीए की पढ़ाई कर रहा था। इस दौरान वो  इस्कान वालों से जुड़ गया था। बेटे को शायद उन्हीं ने कहीं गायब करा दिया है। नवंबर माह में दिग्विजय बहन के घर जाने का कहकर निकला था और उसके बाद वापस नहीं लौटा। तभी से उसकी तलाश में यहां-वहां भटक रहा हूं। 

एसपी सचिन शर्मा ने कहा कि शिकायत मिली है। युवक का पता लगवाया जाएगा। 

इस मामले में जब इस्कान मंदिर के पीआरओ राघव पंडित दास से चर्चा की गई तो उनका कहना था कि संबंधित लड़का बालिग है। वो इस्कान के संपर्क में आया था। यहां छात्रावास में पढ़ने वाले लड़कों के संपर्क में आया ये अच्छी बात है कि वह धार्मिकता में रुचि रखता था, लेकिन घर वालों को पता चला तो करीब चार-पांच माह पूर्व घर वाले उसे ले गए थे। ये घर वालों का व लड़के का आपस का झगड़ा है। वह कहां गया है, हमें नहीं पता है। फिर भी हमने उसे लेकर एडवाइजरी जारी की है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *