MP News: Heartbreaking incident in Gwalior, 10th student gang-raped, thrown from bridge

सांकेतिक तस्वीर।
– फोटो : सोशल मीडिया

विस्तार


ग्वालियर जिले में एक नाबालिग के साथ उसके माता पिता के सामने सामूहिक दुष्कर्म की घटना के बाद फिर दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। 10वीं कक्षा की छात्रा का दो युवकों ने अपहरण कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया है। वारदात के बाद छात्रा के निजी अंग में चोट पहुंचाई गई। इतना ही नहीं आरोपी बदमाश युवकों ने उसे पुल से नीचे फेंक दिया। इससे छात्रा गंभीर रूप से घायल हो गई। उसे इलाज के लिए निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां वह जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही है। पुलिस ने घायल छात्रा के माता-पिता की शिकायत पर दोनों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।

दरअसल, ग्वालियर देहात डबरा सिटी थाना क्षेत्र के लक्ष्मी कॉलोनी निवासी 15 साल की छात्रा दसवीं में पढ़ती है। वह कोचिंग जाने के लिए सुबह अपने घर से निकली थी। एक कोचिंग पर लेट हो जाने के बाद वह दूसरे कोचिंग सेंटर पर पढ़ने के लिए जा रही थी। तभी रास्ते में उसके परिचित युवक बॉबी रावत और सतेंद्र मिले, वे उसका अपहरण कर एक सुनसान इलाके में ले गए, जहां उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया। इसके बाद पीड़िता को आरोपियों ने पुल के ऊपर से नीचे फेंक दिया और फरार हो गए। 

घायल छात्रा को राहगीरों ने देखा और उसकी सूचना पुलिस को दी। घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने माता-पिता को बुलाकर घायल छात्रा को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। आरोपियों द्वारा पुल के ऊपर से नीचे फेंकने के कारण छात्र की रीढ़ की हड्डी और दोनों पैर की हड्डियां टूट गई हैं। जिससे उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। 

छात्रा के बयान दर्ज

छात्रा को 24 घंटे बाद होश आने पर पुलिस ने उसके बयान लिए और माता-पिता ने इस घटना की शिकायत थाने में की। एएसपी निरंजन शर्मा ने बताया कि छात्रा के बयान और माता-पिता की शिकायत के आधार पर दोनों आरोपियों के खिलाफ गैंगरेप, अपहरण, मारपीट और अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर फरार दोनों आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। 

 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *