Farmers will protest against Sugarcane Minister Chaudhary Lakshmi Narayan in the exhibition

यूपी मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी
– फोटो : सोशल मीडिया

विस्तार


साथा चीनी मिल संघर्ष मोर्चा के पदाधिकारियों व किसानों ने चीनी मिल का नवीनीकरण कार्य शुरू न होने पर चिंता व्यक्त करते हुए आक्रोश जताया है। उन्होंने 1 फरवरी को नुमाइश का शुभारंभ करने के लिए अलीगढ़ आ रहे प्रदेश के गन्ना एवं चीनी मिल व जिले के प्रभारी मंत्री चौधरी लक्ष्मी नारायण का विरोध करने का एलान किया है।

 

इस क्रम में साथा चीनी मिल संघर्ष मोर्चा की 29 जनवरी को एक बैठक हुई। जिसमें चीनी मिल के नवीनीकरण का कार्य घोषणा के बाद भी अब तक शुरू न होने पर चिंता व्यक्त की गई। किसान नेता डॉ. शैलेंद्र पाल सिंह ने कहा कि 28 अगस्त 2023 को किसानों का एक प्रतिनिधिमंडल एमएलसी डॉ. मानवेंद्र प्रताप सिंह व कोल विधायक अनिल पाराशर की मौजूदगी में गन्ना व चीनी मिल मंत्री से मिला था। तब उन्होंने आश्वासन दिया कि अक्तूबर तक चीनी मिल के नवीनीकरण का कार्य प्रारंभ हो जाएगा, लेकिन आज पांच माह गुजर जाने के बाद भी कोई कार्य प्रारंभ नही हुआ है।

जिले के गन्ना किसान पिछले छह साल से चीनी मिल के नवीनीकरण को संघर्ष कर रहे हैं, लेकिन कुछ नहीं हुआ है। उन्होंने एलान किया कि वे 1 फरवरी को अलीगढ़ आ रहे गन्ना मंत्री से पहले मिलकर वार्ता करने का प्रयास करेंगे, यदि मुलाकात नहीं होती तो प्रभारी मंत्री को नुमाइश का उद्घाटन नहीं करने देंगे। इस मौके पर हरेंद्र सिंह, कौशल कुमार, विकास लोधी, रवेंद्रपाल सिंह, रॉबी ठाकुर, अजीत सिंह, मानवेंद्र सिंह आदि मौजूद रहे।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *