Indore: Minister Vijayvargiya said - No matter how much reputation I have outside, my wife does not give me mo

कार्यक्रम में वरिष्ठ चिकित्सक प्रकाश दीक्षित का सम्मान किया गया।
– फोटो : amar ujala digital

विस्तार


इंडियन डेंटल एसोसिएशन के कार्यक्रम में नगरीय प्रशासन मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने अपने हाथ खर्च को लेकर राज खोला  और श्रौता ठहाके मारकर हंसने लगे। दरअसल वे सरकार की फायनेंस मिनिस्ट्री के बारे में बोल रहे थे।

विजयवर्गीय ने कहा कि सरकार में वित्त मंत्रालय सबसे महत्पूर्ण होता है। देश का यह मंत्रालय एक महिला के हाथ में है। परिवार में भी यह जिम्मेदारी महिला संभालती है। फिर उन्होंने पत्नी आशा विजयवर्गीय का जिक्र छेड़ दिया और कहा कि मैं दोस्तों से कई बार मजाक में कहता हूं कि बाजार में भले ही मेरी कितनी भी साख हो, लेकिन घर में तीन हजार रुपये की है।

घर से निकलते समय पत्नी तीन हजार रुपये से ज्यादा नहीं देती। जब मैं जल्दी तीन हजार रुपये खर्च कर देता हुं तो कहती है कि इतनी जल्दी पैसे कैसे खर्च हो गए तो मैने बताता हुं कि कुछ मंदिरों में गया था। मैं मैनेजमेंट के बारे में बता रहा है कि आखिर महिलाएं किस तरह इसे संभालती है।

इसी वजह से हमारी वित्त मंत्री महिला है। एसोसिएशन के कार्यक्रम में विजयवर्गीय ने वरिष्ठ चिकित्सक डा. प्रकाश दीक्षित का सम्मान भी किया। कार्यक्रम में एसोसिएशन के पदाधिकारी डा. प्रशांत रेड्डी, डाॅ.अर्पणा गांगुली आदि मौजूद थे। चार दिवसीय कांफ्रेंस में देशभर से डेंटिस्ट आए हुए थे।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *