Muslim Rambhakt will offer prayer to Ramlalla on 30 january.

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के लोगों ने माला पहनाकर स्वागत किया।
– फोटो : amar ujala

विस्तार


लखनऊ से अयोध्या की पैदल यात्रा कर 25 जनवरी को राष्ट्रीय मुस्लिम मंच की अगुवाई में निकला मुस्लिम रामभक्तों का जत्था शनिवार को रानीमऊ चौराहा पहुंचा। रानीमऊ के प्रधान प्रतिनिधि सुनील मिश्र की अगुवाई में मुस्लिम रामभक्तों को माला पहनाकर स्वागत किया गया।

राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के राष्ट्रीय संयोजक ठाकुर राजा रईस व सीबा अंसारी ने कहा कि अयोध्या हिंदुओं के लिए पवित्र है और मुस्लिमों के लिए भी पवित्र है। 30 जनवरी को सभी मुस्लिम रामभक्त भगवान राम का दर्शन करेंगे। हम श्रीराम को इमाम-ए-हिंद मानते हैं।

ये भी पढ़ें – तस्वीरें: प्राण प्रतिष्ठा के बाद पहली बार गोरखनाथ मंदिर पहुंचे सीएम योगी, हुआ भव्य स्वागत, गुरु को दिया खास उपहार

ये भी पढ़ें – अयोध्या: पांच दिनों में 14 लाख श्रद्धालुओं ने किए रामलला के दर्शन, आरती और दर्शन का समय जारी

श्रीराम आपसी एकता और भाईचारे के प्रतीक हैं। रामराज्य का मतलब सबके लिए प्रेम, न्याय और श्रद्धा है। इस दौरान भाजपा जिला मंत्री धर्मेंद्र सिंह, मंडल अध्यक्ष अंजनी साहू, गुड्डू खां, सिकंदर सैनी, हरिशंकर यादव, वसीम राइन, नाजिद अहमद, शुभम मिश्र आदि लोग मौजूद रहे।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *