Gwalior's Central Jail echoes with the name of Ram

ग्वालियर जेल
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


एक तरफ जहां अयोध्या में भगवान राम की प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी। इस अवसर पर ग्वालियर की केंद्रीय जेल में भी भगवान राम की प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी। इसके लिए जेल में एक नया मंदिर भी बनाया गया है, इसके अलावा इसी मंदिर के साथ-साथ जेल के दूसरे सेक्टर में मां भगवती के लिए भी एक नया मंदिर बनाया गया है। जिसमें मां माता रानी की भी प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी। इस दौरान मंदिर में पूरा भक्ति में माहौल देखने को मिल रहा है।

बता दें कि ग्वालियर की केंद्रीय जेल में भी राममय वातावरण हो गया है। जेल में बंद कैदी भी राम नाम का जप करने में लगे हुए हैं और स्थापना को लेकर भी खासे उत्साह में नजर आ रहे हैं। जेल में एक तरफ जहां युवा कैदी जोश में राम का नाम जपने के लिए संगीत का सहारा लेकर भजन गा रहे हैं। वहीं, दूसरी तरफ बुजुर्ग कैदी रामायण का पाठ कर उसके अर्थ को अन्य कैदियों के बीच संवाद के रूप में दे रहे हैं, जिससे पूरा माहौल भक्ति में हो गया है।

राम नाम लिखने का कार्य लंबे समय से 

जिन हाथों से कभी अपराध हुआ करते थे, आज जेल में वही हाथ भगवान राम का नाम लिख रहे हैं। जेल में विशेष तौर पर कैदियों को कुछ ऐसी कॉपियां प्रोवाइड कराई गई हैं जिन पर वे भगवान राम का नाम लिख रहे हैं और यह कॉपियां राम बैंक अयोध्या में जमा की जाएगी। जेलर विदित सिरवैया ने बताया कि राम नाम लिखने का कार्य लंबे समय से किया जा रहा है। इन कॉपियों के भरने के बाद इन्हें जेल से दंदरौआ धाम के लिए भेजा जाता है। इसके बाद इन्हें अयोध्या के लिए भेज दिया जाएगा। 

जयपुर से लाई गई मूर्ति 

बताया जा रहा है कि ग्वालियर की केंद्रीय जेल में भगवान राम की जो स्थापना की जानी है। उसके लिए भगवान की मूर्ति जयपुर से लाई गई है, इस मूर्ति की ऊंचाई लगभग ढाई फीट बताई जा रही है। मूर्ति में पूरा राम दरबार समाया हुआ है। मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा से पहले संपूर्ण हवन चल रहा है और रोजाना प्राण प्रतिष्ठा के लिए पाठ किया जा रहा है। जिसमें जेल के कैदी बढ़-चढ़कर भाग ले रहे हैं और निरंतर जाप भी कर रहे हैं।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *