For the first time after independence, the flag hoisting will be done by the Chief Minister in Ujjain

सीएम मोहन यादव
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


26 जनवरी 2024 गणतंत्र दिवस पर इस बार उज्जैन दक्षिण से विधायक और मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव दशहरा मैदान पर झंडावंदन करेंगे। 1950 से लेकर अब तक बीते 74 वर्षों में 26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर किसी भी मुख्यमंत्री ने उज्जैन में झंडा नहीं फहराया और इस बार 75वें वर्ष में ऐसा उज्जैन का सौभाग्य रहा कि उज्जैन के विधायक से मुख्यमंत्री बने हैं।

बता दें कि उन्होंने पहले ही वर्ष में उज्जैन में ही झंडा फहराने की घोषणा की। इसलिए उज्जैन के लिए यह 75वां गणतंत्र दिवस बहुत खास है। इसके लिए शासकीय स्तर पर विशेष तैयारी की जा रही है। हर बार गणतंत्र दिवस पर उज्जैन में 10 से 15 झांकियां निकलती है और सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होते हैं, लेकिन इस बार इस पूरे झंडावंदन कार्यक्रम की मॉनिटरिंग संभाग आयुक्त और कलेक्टर तथा सचिव स्तर के अधिकारी कर रहे हैं।

सभी विभाग निकाले अपनी अपनी झांकियां; कलेक्टर 

कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने सभी विभागों को अपनी झांकी तैयार करने के लिए कहा है। इस बार 10-15 नहीं, बल्कि पूरी 55 से अधिक झांकियां निकलेगी। हर विभाग को अपनी-अपनी विभाग की झांकी निकालने के लिए कलेक्टर ने निर्देशित किया है। इस बार झांकी निकालने के लिए किस प्रकार प्रशासन को तैयारी करवाई जा रही है, इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है कि वरिष्ठ कोष लेखा एवं पेंशन जैसे विभाग को भी झांकी तैयार करने के लिए कहा गया है। सभी विभाग अपनी-अपनी झांकी तैयार करने में लगे हैं।

32वीं बटालियन का बैंड रहेगा प्रमुख आकर्षण का केंद्र

वहीं, आजादी के बाद पहली बार कोई मुख्यमंत्री नगर मे झंडावंदन करेंगे, इसलिए इस बार पुलिस विभाग भी विशेष तैयारी कर रहा है। इस बार 32वीं बटालियन का 13 सदस्यों का बैंड विशेष रूप से मुख्यमंत्री के परेड सलामी के कार्यक्रम में उपस्थित रहेगा और राष्ट्रीय धुन भी बजाएगा।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *