Ujjain: 2 girls drank pesticide while playing, scared mother also drank it; Both girls died, mother critical

दोनों बच्चियों की इलाज के दौरान हुई मौत, मां की हालत गंभीर
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


मध्य प्रदेश के उज्जैन में खेत पर खेल रही दो मासूम बहनों ने गलती से छिड़काव के लिए रखी कीटनाशक दवा पी ली, जिससे दोनों बेहोश हो गईं। उनकी मां ने उन्हें और कीटनाशक दवा देखी तो उसने भी पी ली। इसके बाद तीनों लोगों को गंभीर हालत में जिला अस्पताल ले जाया गया। जहां दोनों मासूम की मौत हो गई। दूसरी ओर मां की हालत गंभीर होने पर निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

 

इलाज के दौरान बच्चियों की हुई मौत

जानकारी के मुताबिक, यह मामला माकड़ौन थाना क्षेत्र के ग्राम पैतिसिया का बताया जा रहा है। ग्राम पैतिसिया निवासी सरदार चौहान (बंजारा) की पत्नी पूजा (35), उसकी दो बेटियों मुस्कान (3) और पूनम (5) को परिजन गंभीर हालत में जिला अस्पताल लेकर पहुंचे थे। जहां बेटियों को चरक भवन भेजा गया। जबकि पूजा को जिला अस्पताल में भर्ती किया गया। कुछ देर बाद चरक भवन में मुस्कान की मौत हो गई। दूसरी ओर बुधवार की सुबह बेटी पूनम की भी इलाज के दौरान मौत हो गई। वहीं, मां पूजा की हालत लगातार बिगड़ रही थी, जिस वजह से परिजन उसे निजी अस्पताल लेकर पहुंचे।

इधर, मासूम मुस्कान और पूनम की मौत होने की खबर मिलने पर कोतवाली पुलिस चरक भवन पहुंची और शव को पोस्टमार्टम कक्ष में रख मर्ग कायम किया। देर रात पूजा का बयान दर्ज करने पुलिस निजी अस्पताल पहुंची, लेकिन दोनों की हालत गंभीर होने पर बयान दर्ज नहीं हो सके।

 

‘बेटियों को बेहोश देख पूजा ने पिया कीटनाशक’

मासूम बेटियों के फूंफा नारायणसिंह ने बताया कि पूजा और उसकी दोनों बेटियां मंगलवार दोपहर को खेत पर गईं थी। जहां दोनों बेटियों को मेड़ पर छोड़कर पूजा पानी फेरने चली गई थी। कुछ देर बाद लौटी तो दोनों बेटियां बेहोश थी। पास ही खेत में छिड़काव के लिए रखा कीटनाशक पड़ा था। पूजा ने दोनों बेटियों के कीटनाशक पीने पर मौत होना मानकर खुद भी कीटनाशक गटक लिया। तीनों को बेसुध पड़ा देख आसपास के ग्रामीणों ने परिजनों को सूचना दी।

 

12 साल पहले हुई थी शादी

सीहोर स्थित जावर के सिद्धिगंज से आए पूजा के पिता विष्णु गौड (बंजारा) ने बताया कि 12 साल पहले पूजा की ग्राम पैतिसिया में सरदार बंजारा से शादी की थी। पति कंबल बेचने का काम करता है। परिवार में कभी कोई विवाद नहीं था। घटना के समय पति सरदार कबंल बेचने दूसरे गांव गया था। परिवार में चार-पांच बीघा जमीन भी है।

माकड़ौन टीआई बीएस देवड़ा ने बताया कि मां और दो बेटियों के कीटनाशक पीने की जानकारी मिली है। उन्हें प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया था, जहां से उज्जैन रेफर किया गया है। जहां दोनों बेटियों की मौत हो गई। जांच के बाद ही मामला स्पष्ट हो पाएगा।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *