Aligarh exhibition will now be held from 1st February

अलीगढ़ नुमाइश का नया लोगो
– फोटो : प्रशासन

विस्तार


अलीगढ़ जिले की पहचान राजकीय औद्योगिक एवं कृषि प्रदर्शनी (नुमाइश) की तैयारियां धीमी गति से चलने पर प्रशासन ने इसके उद्घाटन की तारीख 28 जनवरी की बजाए अब 1 फरवरी निर्धारित कर दी है। जबकि 26 फरवरी को इसका विधिवत समापन होगा। पहले समापन 22 फरवरी को होना था। 

पश्चिमी उत्तर प्रदेश में अलीगढ़ की नुमाइश एतिहासिक है। जिसे देखने के लिए हजारों दर्शक उमड़ते हैं। इसमें अलीगढ़ ही नहीं कई जिलों एवं राज्यों के कारोबारी, दुकानदार आकर अपनी दुकान सजाते हैं। नुमाइश कार्यकारिणी ने 28 जनवरी से लेकर 22 फरवरी तक नुमाइश के आयोजन का निर्णय लिया था। तय कार्यक्रम के अनुसार नुमाइश की तैयारियां शुरू हो गई हैं, लेकिन उसकी गति बेहद धीमी है। कृष्णांजलि, कोहिनूर मंच से लेकर कृषि, औद्योगिक कक्ष आदि का काम भी आधा-अधूरा पड़ा हुआ है। ऐसे में तय समय पर नुमाइश के आयोजन पर संशय के बादल मंडरा रहे थे। 

प्रशासन ने 17 जनवरी को नुमाइश के आयोजन एवं उद्घाटन समारोह को तीन दिन आगे बढ़ाने का निर्णय ले लिया है। हालांकि अभी उ्दघाटन के लिए मुख्य अतिथि के नाम का एलान नहीं हुआ है। अभी तक नुमाइश में होने वाले आयोजनों पर भी मुहर नहीं लग सकी है। अब नुमाइश का आयोजन एक से 26 फरवरी तक होगा। एडीएम सिटी अमित कुमार भट्ट ने बताया कि सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। नुमाइश के भव्य आयोजन को लेकर इसे तीन दिन आगे बढ़ाया गया है।

कोहिनूर मंच के निर्माण पर खर्च होंगे 13 लाख 

नुमाइश के कोहिनूर मंच की स्टेज पर सजावट के लिए इस बार 13 लाख खर्च करने की तैयारी है। नुमाइश में पहला अवसर है जब स्टेज के लिए इतना पैसा खर्च किया जा रहा है। पिछले साल महज नौ लाख रुपये में स्टेज का ठेका उठाया गया था। इस पर तरह-तरह की चर्चाएं हैं।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *