Ujjain News: On the instructions of the Chief Minister, bulldozer ran on the house of four rewarded criminals

मकान गिराती जेसीबी।
– फोटो : Amar Ujala Digital

विस्तार


मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव अब एक्शन में नजर आ रहे हैं। जनता से अभद्र व्यवहार करने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई करने के साथ ही अब उनकी नजर ऐसे इनामी बदमाशों पर भी है, जोकि अब तक लोगों को डरा धमकाकर उन पर बेवजह दबाव बना रहे थे। पुलिस और प्रशासन ने सोमवार शाम को उज्जैन में एक बड़ी कार्रवाई करते हुए चार मकानों को तोड़ दिया।

सोमवार शाम को पुलिस टीम के साथ नगर निगम भवन अधिकारी हर्ष जैन, भवन निरीक्षक मुकुल मेश्राम सहित निगम अमला सबसे पहले सागर पिता अभय तिरवार के महाशक्तिनगर मकान पर पहुंचा। दो मंजिला मकान पर यहां अतिक्रमण ध्वस्त किया गया। इसके बाद पूजा परिसर का मकान ढहाया गया। तीसरी कार्रवाई देवास रोड स्थित साईंबाग कॉलोनी में की गई। यहां सीमा पति अभय तिरवार के नाम से बना मकान भी एक साथ दो जेसीबी की मदद से जमींदोज कर दिया गया। चौथी कार्रवाई राजीव सिंह भदौरिया के मकान पर की गई। आराधना परिसर स्थित मकान के साइड में अवैध गैलरी निकाली हुई थी, जिसे जेसीबी ने तोड़ दिया गया। 

भवन निरीक्षक मुकुल मेश्राम ने बताया कि पूर्व में ही उक्त लोगों को सूचना पत्र जारी कर भवन के अवैध निर्माण को हटाने के लिए सूचित किया गया था। इसके बाद निर्धारित समय सीमा में स्वयं अवैध निर्माण नहीं हटाने पर निगम की रिमूवल गैंग के माध्यम से कार्रवाई करते हुए अवैध निर्माण और अतिक्रमण हटा दिया।

जीरो टॉलरेंस के तहत की जा रही कार्रवाई 

अपराध पर जीरो टॉलरेंस के तहत माफिया पर लगाम कसने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव के गृह जिले उज्जैन में बुलडोजर चलने की कार्रवाई शुरू हो गई है। इसी क्रम में प्रशासन ने उज्जैन में चार मकानों को जमींदोज कर दिया। जिन बदमाशों के मकान पर कार्रवाई हुई उन पर पुलिस ने इनाम भी घोषित किया है। आरोपियों पर ब्लैकमेलिंग सहित कई गंभीर अपराध दर्ज हैं। एसपी सचिन शर्मा के मुताबिक, आरोपी अभय तिरवार पर दस हजार रुपये का इनाम है। आरोपी के खिलाफ लगभग 25 अपराध दर्ज हैं। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि आरोपी अभय के महाशक्ति नगर, साई बाग कॉलोनी और पूजा परिसर में तीन मकान को जमींदोज कर दिया गया।

 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *