– मंडलीय तकनीकी परीक्षक की जांच में मिली गड़बड़ी

संवाद न्यूज एजेंसी

ललितपुर। मंडलीय प्राविधिक परीक्षक ग्राम्य विकास की जांच में गड़बड़ी पाए जाने पर रिकवरी की संस्तुति की गई है। मामला ब्लॉक बार के ग्राम पंचायत दैलवारा व अजनौरा का है। मंडलीय प्राविधिक परीक्षक टीएसी ग्राम्य विकास झांसी मंडल ने जिलाधिकारी को ग्राम प्रधान, सचिव व तकनीकी सहायक से वसूली की कार्रवाई के लिए पत्र भेजा है। मंडलीय टीएसी ने जुलाई माह में की गई जांच के दौरान दोनों ग्राम पंचायतों के विकास कार्य में की कई कमियों को पकड़ा था।

ब्लॉक बार अंतर्गत ग्राम पंचायत दैलवारा व अजनौरा में वित्तीय वर्ष 2022-23 में मनरेगा के तहत कराए गए कार्यों का स्थलीय निरीक्षण मंडलीय प्राविधिक परीक्षक टीएसी ग्राम्य विकास झांसी मंडल ने 7 अगस्त 2023 को किया गया था। इस दौरान टीएसी ने ग्राम दैलवारा में शिवप्रसाद के मकान से राजू के मकान तक 771924 रुपये की लागत से इंटरलॉकिंग के कार्य का निरीक्षण किया था। यह काम 22 नवंबर 2022 को शुरू हुआ था और 31 दिसंबर 2022 को समाप्त हो गया था। इस काम पर 703853 रुपये खर्च किया गया था। जिसमें लंबाई, चौड़ाई सहित अन्य चीजों को देखा था। इसके बाद ग्राम अजनौरा में आशा के मकान से कोमल विश्वकर्मा के मकान तक कराए गए इंटरलॉकिंग कार्य का निरीक्षण किया। इस काम की लागत 1001637 रुपये थी। यह काम 21 सितंबर 2022 में शुरू हुआ था और 20 दिसंबर 2022 को पूरा हुआ था। जोकि मानक के अनुरूप नहीं मिला था। हाल ही में मंडलीय प्राविधिक परीक्षक टीएसी ग्राम्य विकास झांसी मंडल झांसी ने जिलाधिकारी को ग्राम प्रधान, सचिव व तकनीकी सहायक से वसूली की कार्रवाई के लिए पत्र भेजा है। ग्राम दैलवारा में इंटरलॉकिंग काम में गड़बड़ी मिलने पर ग्राम प्रधान गणेश रजक, ग्राम पंचायत सचिव संजेश यादव व तकनीकी सहायक अमित त्रिपाठी से 29310-29310 रुपये की कुल 87930 रुपये की वसूली करने को कहा गया है। जबकि ग्राम अजनौरा में हुई इंटरलॉकिंग काम में गड़बड़ी पाए जाने पर ग्राम प्रधान दीपेंद्र राजे, ग्राम पंचायत सचिव जीशान उस्मानी और तकनीकी सहायक एसएन उदैनिया से 26466-26466 रुपये की कुल 79397 रुपये की वसूली किए जाने को कहा गया है।

ग्राम दैलवारा व अजनौरा में मनरेगा काम में टीएसी ने जांच में गड़बड़ी पाई थी। जिम्मेदारों के खिलाफ रिकवरी तय करते हुए मंडलीय तकनीकी परीक्षक ने पत्र भेजा। ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सचिव व तकनीकी सहायक से रिकवरी को कहा गया है। पत्र के क्रम में जिम्मेदारों से तय की गई रिकवरी जमा कराई जाएगी।

रवींद्रवीर यादव, डीसी, मनरेगा



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *