संवाद न्यूज एजेंसी

ललितपुर। जनपद में स्वास्थ्य विभाग के डेंगू की रोकथाम के तमाम दावे फेल साबित हुए। 11 माह में 169 डेंगू के मरीज सामने आए हैं। यह आंकड़ा बीते चार वर्षों में सबसे अधिक है। राहत की बात यह है कि अब एक भी मरीज एक्टिव नहीं है। सभी मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। अब तक दिसंबर में एक भी डेंगू का मरीज नहीं मिला है।

शासन ने संक्रामक व मच्छर जनित बीमारियों की रोकथाम के लिए संचारी रोग नियंत्रण अभियान चलाया। इसे वर्ष 2023 में तीन चरणों में चलाया गया। इसमें दस विभागों को अलग-अगल जिम्मेदारियां दी गईं। यह सारी कवायद अधूरी रह गई। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार बीते वर्षो में अब तक डेंगू के मरीजों की संख्या ने 150 का आंकड़ा भी पार नहीं किया है। वर्ष 2023 में जनवरी से 30 नवंबर तक 169 डेंगू के मरीज पाए गए हैं, जबकि बीते वर्षों में संख्या कम रही। ये आंकड़े सरकारी अस्पतालों में जांच में मिले मरीजों की है। निजी पैथालॉजी पर जांच कराने वाले मरीजों की संख्या विभाग के पास नहीं है। ऐसे में मरीजों की संख्या का अंदाजा सहज ही लगाया जा सकता है।

आंकड़े गवाह हैं

वर्ष – संख्या

2020 – 02

2021 – 112

2022 – 22

2023 – 169

जिले में एक सप्ताह से डेंगू का एक भी मरीज नहीं मिला है। जनवरी से 30 नवंबर तक 169 मरीज ही मिले हैं। सभी मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।

– मुकेश जौहरी, जिला मलेरिया अधिकारी



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *