सरावन। बारिश से क्षेत्र में 16 घंटे से मजरे समेत 36 गांवों में बिजली नहीं आई। इस वजह से करीब 80 हजार की आबादी को पेयजल संकट व अन्य दिक्कतों से दोचार होना पड़ा। बिजली नहीं आने से परेशान लोगों ने नाराजगी जताई।

सरावन सब स्टेशन से जुड़े गोहन, गढ़िया, दादनपुर, शहबाजपुर,पड़कुला, सरावन, कासिमपुर, विजदुवा आदि करीब 36 गांवों में रविवार की देर रात करीब एक बजे बिजली चली गई। बारिश होने की वजह से बिजली विभाग के अधिकारियों ने सप्लाई बंद कर दी थी। इसके बाद बारिश रुकी तो सप्लाई चालू की, लेकिन उसी दौरान फॉल्ट हो गया। इस वजह से फिर बिजली चली गई।

बिजली नहीं आने से लोगों को पेयजल संकट से दो-चार होना पड़ा। गांव के पास सरकारी हैंडपंपों से पानी भरा तो दूर से पानी ढोने को मजबूर भी होना पड़ा। दूसरे दिन सोमवार को शाम करीब पांच बजे बिजली की सप्लाई ठीक हो सकी। ग्रामीण प्रताप सिंह, अरविंद बाथम, सुरेश, झल्लू, रजक, बबलू, गुजराल ने बताया कि अक्सर बिजली विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों की लापरवाही के कारण बिजली फॉल्ट होता है।

इस वजह से सिंचाई को लेकर भी परेशानी होती है। रात बिजली नहीं आने से पेयजल संबंधित दिक्कत हो गई। जेई गुलशन झा ने बताया कि बारिश को लेकर लाइन बंद की गई थी, फिर फॉल्ट हो गया। उसे ठीक कर सप्लाई चालू कर दी गई।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *