आटा। गांव के बाहर एक युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई।

वह लहूलुहान हालत में एक निर्माणाधीन भवन के पास मिला था। उसका इलाज ग्वालियर अस्पताल में चल रहा था। चार दिन बाद उसने दम तोड़ दिया। उसके सिर से खून भी निकल रहा था। मौत के कारणों की पुष्टि नहीं हुई है। परिजनों ने हत्या का आरोप लगाया है।

आटा थाना क्षेत्र के गांव जोहराखेड़ा निवासी मानसिंह (42) बीते रविवार को अपने कुछ साथियों के साथ गांव के बाहर नलकूप के पास गया था। रातभर वह वहीं रहा और दूसरे दिन सोमवार को गंभीर हालत में नलकूप के पास पड़ा मिला। गांव वालों ने देखा तो परिजनों को सूचना दी। उसे पहले उरई अस्पताल लेकर आए।

हालत गंभीर होने पर उसे झांसी हायर सेंटर रेफर कर दिया गया। वहां भी स्थिति नाजुक लगने पर परिजन उसे ग्वालियर अस्पताल ले गए। यहां उसका उपचार चल रहा था। गुरुवार रात उसने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। युवक के सिर पर खून निकल रहा था। भांजा संतोष ने बताया कि सिर में खून बह रहा था, जिससे मारपीट की आशंका है।

एसओ अर्जुन सिंह ने बताया कि प्रधान के नलकूप के पास मिला था। बारिश और सर्दी की वजह से भी मौत हो सकती है। तीन चार लोग उसके साथ थे। पता किया जा रहा है। तहरीर नहीं मिली है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *