कोंच। हिंदू पंचांग के अनुसार दीपावली की दौज के दिन कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया को मनाई जाने वाली चित्रगुप्त भगवान की पूजा अर्चना कायस्थ बंधुओं ने परंपरागत तरीके से की।

चित्रगुप्त सेवा समिति के अध्यक्ष अंजनी श्रीवास्तव के सुभाषनगर स्थित आवास पर विनोद श्रीवास्तव की अध्यक्षता में आयोजित पूजन कार्यक्रम में शामिल कायस्थ बंधुओं ने चित्रगुप्त भगवान की प्रतिमा पर तिलक कर पुष्प अर्पित किए और आरती उतारी, साथ ही कलम दवात और बहीखातों की पूजा कर लेखन कार्य का शुभारंभ किया।

इस दौरान अंजनी श्रीवास्तव ने कहा कि न केवल खुद बल्कि अपने बच्चों को भी दुर्व्यसनों से दूर रहने की सीख दें, साथ ही बच्चों को अच्छी शिक्षा देकर समाज की उन्नति में सहयोग करें। उन्होंने कहा कि शिक्षा से ही किसी भी समाज की तरक्की संभव है। समिति के मंत्री नवीन श्रीवास्तव ने समाज के निर्धन लोगों की यथासंभव मदद करने का आह्वान किया। इस दौरान शशांक श्रीवास्तव, मीनू, ब्रजेश, संजय, अमित, सौरभ, शिवांश व कालजीत आदि मौजूद रहे।

वहीं, दूसरी ओर पुराने सरकारी अस्पताल में स्थित चित्रांश आस्था केंद्र पर गोविंद खरे की अध्यक्षता में आयोजित किए गए कार्यक्रम में चित्रांश बंधुओं ने चित्रगुप्त भगवान के चित्र पर पूजन-अर्चन करते हुए उन्हें नमन किया। वक्ताओं ने समाज के उत्थान पर बल दिया। इस मौके पर डॉ. एलआर श्रीवास्तव, रामकिशोर खरे, अरुण श्रीवास्तव, राजकुमार खरे, संतोष खरे, रामकुमार खरे व सत्येंद्र खरे आदि मौजूद रहे।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *