कोंच। धनुताल इलाके में लगी आतिशबाजी की दुकानों का एसडीएम और सीओ ने निरीक्षण किया। दुकानों में लगी लाइटिंग और इलेक्ट्रॉनिक उपकरण मानकों के विरुद्ध बताते हुए तत्काल हटवा दिया। एसडीएम ने कहा कि बिना लाइसेंस या अनुमति के दुकानों का संचालन कतई न करें, वरना कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

एसडीएम अतुल कुमार और सीओ रामसिंह ने शहर की आबादी से दूर धनुताल के पास दशहरा मेला ग्राउंड में लगे आतिशबाजी बाजार का निरीक्षण किया। इसमें मिलीं खामियों पर दुकानदारों को चेतावनी देकर दुरुस्त करने लिए कहा। अफसरों ने अग्निशमन यंत्रों की भी जांच की।

बता दें कि साल 2018 में छोटी सी चूक से पूरा आतिशबाजी मार्केट जल गया था। कई बाइकें और पास रहने वालों के छान छप्पर भी जल गए थे। ऐसे में प्रशासन का पूरा फोकस आतिशबाजी दुकानदारों को नियम कायदों का पालन सख्ती से करानेे पर हैै।

अधिकारियों ने निरीक्षण कर सुरक्षा व्यवस्था परखी और दुकानदारों के लाइसेंस चेक किए। आग के खतरों से निपटने के उपायों पानी, बालू व अग्निशमन यंत्रों की भी जांच की जो संतोषजनक मिले। ग्राहकों को हिदायत दी कि दुकान के बाहर पटाखों की टेस्टिंग न करें। एसडीएम ने दुकान में लगे बल्बों को हटवाया तथा बाइकों को दुकानों सेे दूर खड़ी कराने के लिए कहा।

एसडीएम ने शहर के अंदर आबादी में आतिशबाजी की दुकान लगाने को प्रतिबंधित बताते हुए चेतावनी दी कि यदि कस्बे में कोई दुकान लगी मिलती है तो एफआईआर दर्ज कराते हुए विधिक कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान कोतवाल नागेंद्र कुमार पाठक भी मौजूद रहे।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *