MP Election 2023: Elderly and disabled voters voted, presiding officer reached home to collect votes

MP Election 2023
– फोटो : अमर उजाला



विस्तार


बुजुर्ग और दिव्यांग मतदाताओं का मत लेने के लिए पीठासीन अधिकारी घर पहुंच रहे हैं। चुनाव आयोग ने 80 साल से अधिक उम्र के बुजुर्ग और दिव्यांग मतदाताओं के लिए इस बार घर से ही मतदान करने की सुविधा दी है। ऐसे में बुजुर्ग और दिव्यांग मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग घर से ही किया। उन्होंने आयोग की इस नई सुविधा का लाभ लेते हुए अपने घर पर भी रहकर वोटिंग की। भोपाल की 7 विधान सभा सीट के लिए भी बुजुर्ग और दिव्यांग मतदाताओं की वोटिंग मंगलवार से शुरू हो गई है। सुरक्षा इंतजाम के बीच मतदान दल बुजुर्ग और दिव्यांग मतदाताओं के घर पहुंचकर मतदान करवाया गया। 

तीन दिन चलेगी होम वोटिंग

वोट फॉर होम की प्रक्रिया तीन दिन तक चलेगी। 9 नवंबर तक होम वोटिंग करवाई जायेगी। भोपाल की सभी 7 विधानसभाओं में 80+ उम्र के कुल करीब 27089 मतदाता हैं। जबकि दिव्यांग वोटर्स की संख्या 15 हजार 747 है। इस दौरान हर मतदाता की वीडियोग्राफी कराई जाएगी। सुबह 9 से शाम 5 बजे तक कर मतदान किया जा सकता है।

सुविधा अनुसार टाइम

इस पूरी प्रक्रिया में पोस्टल वैलेट से मतदान करवाया जा रहा है। आयोग की ओर से यह प्रयास किए जा रहे हैं कि किसी भी बुजुर्ग और दिव्यांग मतदाता को असुविधा न हो इसके लिए उनकी सुविधा अनुसार ही वोटिंग का समय तय किया जा रहा है। 

बीएलओ से करें संपर्क

बुजुर्ग और दिव्यांग मतदाताओं के लिए चुनाव आयोग ने घर से मतदान की पहल की है। अगर आप भी इस सुविधा का लाभ लेना चाहते हैं तो इसलिए लिए अपने एरिया के बीएलओ से संपर्क कर सकते हैं। इस सुविधा का लाभ लेने के लिए फॉर्म 12 D भरना आवश्यक होता है। बुजुर्ग मतदाता की उम्र 80 प्लस होनी चाहिए। 

पार्टी के एजेंट भी मौजूद

मतदान दल निष्पक्ष चुनाव करवाने के लिए राजनीतिक पार्टियों के एजेंट को भी सूचित कर रहा है। बुजुर्ग या दिव्यांग का मत लेते समय राजनीतिक दल के एजेंट भी वहां मौजूद रहते हैं। इसके साथ राजनीतिक दल भी जोन वोटिंग की इस प्रक्रिया पर अपनी पूरी नजर बनाए हुए हैं।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *