Agra Bank manager murder case Husband dead body was kept in house Wife got food cooked by maid

Agra Bank manager murder case
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


आगरा के ताजगंज के रामरघु एग्जॉटिका में बैंक प्रबंधक सचिन उपाध्याय हत्याकांड में पुलिस की छानबीन में कई चौंकाने वाली बातें सामने आई हैं। फ्लैट में सचिन की लाश को 17 घंटे तक छिपाकर रखा गया। सचिन की मौत की भनक पड़ोसियों तक को नहीं लगने दी। यहां तक कि पत्नी ने घरेलू नौकरानी से खाना भी बनवाया, ताकि कोई शक ना करे। 

12 अक्तूबर को पत्नी ने पड़ोसी के मोबाइल से अपने पिता से बातचीत की। पुलिस अब हत्या में नामजद ससुर और पत्नी की तलाश में जुटी है। पुलिस ने कॉलोनी में छानबीन की तो पता चला कि मुन्नी और रजनी नाम की दो कामवाली महिलाएं (मेड) सचिन के घर काम करती थीं। 

एक साफ-सफाई और दूसरी भोजन बनाती थी। 12 अक्तूबर को दोनों कामवाली घर पहुंचीं तो सचिन की पत्नी प्रियंका ने उनसे कढ़ी-चावल और 16 रोटियां बनवाईं। रोजाना से ज्यादा खाना बनवाया, जबकि पति की लाश घर में रखी थी। पुलिस को छानबीन में यह भी पता चला कि प्रियंका 12 अक्तूबर की सुबह करीब 11 बजे पड़ोसी के घर पहुंची थी। 

उनसे उनका मोबाइल मांगा। उन्हें बताया कि उसके मोबाइल की स्क्रीन टूट गई है। पिता से बात करनी है। सचिन का मोबाइल भी घर में था लेकिन प्रियंका ने पति के मोबाइल से अपने पिता को फोन नहीं मिलाया। पड़ोसी से फोन लेकर पिता से दो बार बातचीत की। पिता से क्या बातचीत हुई थी। यह साफ नहीं हुआ है। पुलिस का कहना है कि प्रियंका की तलाश की जा रही है।

 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *