MP Weather Report Effect of Western Disturbance will end by 18th weather will be normal again

सांकेतिक तस्वीर
– फोटो : सोशल मीडिया

विस्तार


मध्यप्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ के चलते मौसम का मिजाज एक बार फिर बदल गया है। मंगलवार को प्रदेश के ग्वालियर चंबल एवं रीवा संभाग के जिलों में कुछ स्थानों पर व शेष संभागों के जिलों में कहीं-कहीं वर्षा दर्ज की गई। नर्मदापुरम में 11 एमएम वर्षा दर्ज की गई। खंडवा खरगोन में हवा तेज गति से चली, जिसके कारण कई स्थानों पर खंबे और पेड़ धराशाई हो गए। वहीं अशोक नगर और टीकमगढ़ में बिजली की चपेट में आने कई लोग घायल हो गए।

मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार बुधवार से मौसम सामान्य होने की संभावना है। तापमान की बात करें तो प्रदेश में सर्वाधिक तामपान 36 C सतना, दमोह और ग्वालियर में दर्ज किया गया जबकि सबसे कम तापमान खंडवा और दतिया में 18 C दर्ज किया गया। भोपाल संभाग के जिलों में अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई। वहीं शेष संभागों के जिलों में विशेष परिवर्तन नहीं हुआ। रीवा संभाग के जिलों में सामान्य से अधिक और शेष संभागों के जिलों में सामान्य रहे। न्यूनतम तापमान में सभी संभागों के जिलों में विशेष परिवर्तन नहीं हुआ। शहडोल संभाग के जिलों में सामान्य से काफी अधिक और शेष संभागों के जिलों में सामान्य रहे।

शाजापुर में सबसे तेज हवा 

पश्चिम मध्यप्रदेश के शाजापुर में 51 kmph, अशोकनगर में 48 kmph, सीहोर में 38 kmph, खंडवा ने 38 kmph, ग्वालियर में 38 kmph, शिवपुरी में 32 kmph, इंदौर में 28 kmph की गति से हवा चली। वहीं पूर्वी मध्यप्रदेश के पन्ना में 36 kmph, सागर में 34 kmph, कटनी में 28 kmph, दमोह में 28 kmph, छतरपुर में 28 kmph की गति से हवा चली।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *