MP News Bhim Army chief Chandrashekhar Ravan in custody was going to join Jail Bharo movement in Gwalior

चंद्रशेखर रावण हिरासत में
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


ग्वालियर में गुर्जर ओबीसी और अन्य समुदाय द्वारा कथित रूप से किए जा रहे जेल भरो आंदोलन में शामिल होने के लिए आ रहे भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर रावण को उनके अन्य साथियों के साथ मुरैना में ही हिरासत में ले लिया गया है। वह ग्वालियर में आंदोलन में शामिल होने के लिए आ रहे थे। चंद्रशेखर रावण को मध्यप्रदेश-राजस्थान की बॉर्डर यानी चंबल की राजघाट पर हिरासत में ले लिया है। अभी मुरैना और ग्वालियर पुलिस अधीक्षक और कलेक्टर वार्तालाप किए।

बता दें कि इस आंदोलन के विरोध में पुलिस प्रशासन द्वारा गुरुवार सुबह से ही कड़ी मुस्तादी की जा रही थी। ग्वालियर की सीमाओं से लगे हुए अन्य जिलों से भी संपर्क साधा जा रहा था। तभी पुलिस को भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर रावण के मुरैना की तरफ से आने की सूचना मिली। इस पर पुलिस ने मुरैना पुलिस से सूचना का आदान-प्रदान करते हुए चंद्रशेखर रावण, रवींद्र भाटी, अतुल प्रधान को चंबल नदी के पास से ही हिरासत में ले लिया है। मुरैना पुलिस ने इन्हें सराय छोला थाना क्षेत्र के अल्लाबेली चौकी पर बने चेकिंग पॉइंट पर ही हिरासत में लिया था और उनसे पूछताछ की जा रही है।

चंबल के राजघाट पर ग्वालियर के पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल और ग्वालियर कलेक्टर अक्षय कुमार भी मौके पर पहुंच गए हैं। इसके बाद चंद्रशेखर रावण से मुरैना और ग्वालियर का पुलिस प्रशासन बातचीत कर रहा है। लेकिन बताया जा रहा है कि चंद्रशेखर रावण ग्वालियर में आने के लिए अड़े हुए हैं। मौके पर 1000 की संख्या में पुलिस बल मौजूद है। अगर चंद्रशेखर रावण ग्वालियर में आने की जिद करते हैं तो प्रशासन उनकी गिरफ्तारी कर सकता है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *