MP Election 2023: BJP targeted Congress, said- Due to quota system, consensus on tickets is not being made.

भाजपा ने भी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस पर निशाना साधा।
– फोटो : सोशल मीडिया

विस्तार


मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस और भाजपा में घमासान छिड़ा हुआ है। कांग्रेस और भाजपा एक दूसरे पर जमकर आरोप प्रत्यारोप लगा रहे हैं। भाजपा की ओर से शुक्रवार को पूर्व मंत्री उमा शंकर गुप्ता ने प्रेसवार्ता कर कांग्रेस पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस में कोटा सिस्टम के चलते टिकटों पर आम सहमति नहीं बन पा रही है इसीलिए कांग्रेस अभी तक एक भी नाम घोषित नहीं कर पाई है।

गुप्ता ने कांग्रेस में गुटबाजी का आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस गुटबाजी चरम पर है। कमलनाथ, दिग्विजय, अरुण यादव, जीतू पटवारी सब अपने लोगों को टिकट दिलवाना चाहते हैं। जनआक्रोश यात्रा में कांग्रेस की अंतर्कलह खुलकर सामने आ चुकी है। इसी के चलते कांग्रेस के बड़े नेता चुनाव नहीं लड़ रहे हैं। गुप्ता ने आगे कहा कि 3 घंटे मे कमलनाथ मीटिंग छोड़कर बाहर आ जाते हैं। विधानसभा का यह चुनाव कांग्रेस vs कांग्रेस चुनाव होगा। कांग्रेस के किसी नेता को प्रदेश की जनता से मतलब नहीं है। गुप्ता ने सवाल उठाए कि प्रियंका मध्यप्रदेश आईं थीं क्या उन्होंने कांग्रेस विधायक कल्पना वर्मा से माफी मांगी। राजस्थान के महिला अत्याचार पर प्रियंका गांधी ने चुप्पी क्यों साधी हुई है। 

टिकट रेस में भाजपा आगे 

आपको बता दें कि टिकट की अब तक की रेस में भाजपा कांग्रेस से आगे चल रही है। भारतीय जनता पार्टी अभी तक विधानसभा चुनाव 2023 के लिए तीन लिस्ट जारी कर अपने 79 उम्मीदवारों के नाम घोषित कर चुकी है। जबकि कांग्रेस ने अभी तक एक भी नाम उजागर नहीं किया है। उनका मंथन लगातार जारी है। कहा जा रहा है कि कांग्रेस अब पितृपक्ष के बाद ही अपने प्रत्याशियों की सूची जारी करेगी।

 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *