Gwalior People of special community attacked with sticks and swords during Aarti in Ganesh Pandal

हमले में घायल
– फोटो : अमर उजाला

विस्तार


गणेश महोत्सव शुरू होने के साथ ही ग्वालियर शहर के अलग-अलग स्थान पर गणेश पंडाल भी सजाए गए हैं। जनकगंज थाना क्षेत्र में गुरुवार रात गणेश पंडाल में आरती के बाद लाउड स्पीकर बजाने पर दो पक्षों में विवाद हो गया। इसके बाद धर्म विशेष से जुड़े लोगों ने तलवार और लाठियों से लैस होकर हमला बोल दिया, जिसमें एक महिला समेत चार लोग घायल हो गए।

घायलों में तीन की हालत गंभीर है, जिन्हें इलाज के लिए ग्वालियर के जया रोग के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने इस पूरे मामले में फरियादी जसवंत खटीक उर्फ और पप्पू की शिकायत पर चार आरोपियों पर मामला दर्ज किया है। इस घटना के सभी चारों आरोपी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिए हैं।

घटना जनकगंज थाना क्षेत्र के गेंडे वाली सड़क की है। जहां जसवंत खटीक और उनके आसपास रहने वाले लोगों द्वारा गणेश पंडाल सजाया गया है। जसवंत का कहना है, रात के समय आरती के बाद कुछ लोग आए और गाली-गलौज करने लगे। जब उन्हें गाली-गलौज करने से मना किया गया तो वह तलवार और लाठी लेकर आ गए और हमला कर दिया। इस हमले में जसवंत भी चोटिल हुए हैं और उनके घर की एक महिला समेत तीन अन्य लोग भी घायल हुए हैं, जिन्हें गंभीर अवस्था में जेएच में भर्ती कराया गया है। जसवंत ने हमला करने वाले सलमान, इरफान, परवेज और छोटू के खिलाफ जनकगंज थाने में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस ने इनमें से तीन आरोपियों को दबोच लिया है।

एसपी राजेश सिंह चंदेल का कहना है कि गेंडे वाली सड़क पर गणेश पंडाल में आरती के बाद यह विवाद हुआ था, जिसमें तीन से चार लोग घायल हुए थे। घायलों की गंभीर हालत को देखते हुए चार लोगों पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने चारो आरोपियों को दबोच लिया है, इलाके में शांति रहे इस बात के प्रयास किया जा रहे हैं। इसके साथ ही शहर भर में जितने भी गणेश पंडाल लगे हैं, उन सभी पंडाल की लिस्ट तैयार कराई जा रही है और स्थानीय थाना प्रभारी को निर्देशित किया गया है कि वह पंडाल की लिस्ट तैयार कर समिति के लोगों से बात करें कि उनके यहां क्या कार्यक्रम है और कब-कब है। उसी हिसाब से सुरक्षा व्यवस्था लगाई जा रही है और पुलिस लगातार राउंड भी ले रही है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *