Complaint reached to PM Modi of EESL, which tarnished the name of Central Government's energy saving scheme.

पीएम मोदी से की गई ईईएसएल की शिकायत
– फोटो : सोशल मीडिया

विस्तार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मंशा है कि उज्जैन शहर ऊर्जावान रोशनी में हो और सदैव विकास के पथ पर अग्रसर रहे, जिसके लिए उन्होंने कई योजनाएं चला रखी है। लेकिन इन योजनाओं पर इन दिनों एक कंपनी द्वारा निम्न स्तर के सामान लगाए जा रहे हैं। इस पूरे मामले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कंपनी के खिलाफ शिकायत पत्र लिखा गया है। पत्र में यह भी लिखा गया है कि केंद्र की महत्वाकांक्षी योजनाओं का इस तरह की कंपनियां नाम खराब कर रही है।

Read More: Jabalpur: अपराधिक अवमानना मामले में 23 अधिवक्ताओं को जबाव पेश करने मिला समय, कोर्ट के सामने किया था हंगामा

उज्जैन नगर निगम के प्रकाश विभाग समिति प्रभारी रजत मेहता ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को ई.ई.एस.एल. कंपनी के संबंध में पत्र लिखा गया है। पत्र में उल्लेख किया है कि भारत सरकार की महत्वकांक्षा अनुसार ऊर्जा बचत को दृष्टिगत रखते हुये विद्युत बचत अंतर्गत उज्जैन शहर में स्मार्ट सिटी के माध्यम से भारत सरकार से मान्यता प्राप्त कंपनी ई.ई.एस.एल. के माध्यम से शहर में एनर्जी सेविंग एल.ई.डी. फिक्चर्स सी.सी.एम.एस. स्थापित किये गये थे। कंपनी द्वारा जो फिक्चर्स लगाये गये हैं वे यथोचित मानक के न होकर निम्न स्तर के हैं। फिक्चर्स बार बार खराब हो जाते हैं, तथा उनकी संधारण सामग्री भी कंपनी द्वारा विभाग को उपलब्ध नहीं कराई जाती है। इस संबंध मे मेरे द्वारा पूर्व में सभी संबंधित विभाग व भारत सरकार के ऊर्जा मंत्रालय को भी लिखित में अवगत कराया गया है, जिसमें कंपनी के विरूद्ध कार्रवाई कर दण्डित करने का निवेदन किया गया है, किन्तु वर्तमान में अब तक उपरोक्त कंपनी के विरुद्ध किसी भी स्तर से कोई कार्रवाई नहीं की गई है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *