मध्यप्रदेश के बालाघाट में शनिवार तड़के करीब तीन बजे हॉक फोर्स और नक्सलियों में मुठभेड़ हुई। इसमें दो महिला कमांडरों को ढेर कर दिया गया। दोनों पर 14-14 लाख रुपये यानी कुल 28 लाख रुपये का इनाम घोषित था।  

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार शनिवार तडके गढ़ी थानान्तर्गत कांधला के जंगल में सर्चिंग के दौरान नक्सलियों ने हॉक फोर्स की टीम पर फायरिंग शुरू कर दी। हॉक टीम ने जवाबी फायरिंग की। इस मुठभेड में भोरभ देव एरिया कमांडर सुनीता तथा खटिया मोर्च एरिया कमांडर सरिता को हॉक फोर्स ने मार गिराया। सुनीत पहले टाडा दलम में थी और वर्तमान के विस्तार दलम के लिए काम कर रही थी। कबीर के साथ सरिता गार्ड के रूप में काम करती थी। दोनों महिला नक्सलियों पर 14-14 लाख रुपये का इनाम घोषित था। महिला नक्सलियों के पास दो बंदूक, कारतूस, खाद्य सामग्री सहित दैनिक उपयोग की वस्तुए मिली है। मुठभेड़ में और भी नक्सली घायल हुए हैं, जिनकी तलाश पुलिस और हॉक फोर्स के जवान कर रहे हैं। बालाघाट के आईजी संजय कुमार, एसपी समीर सौरभ और हॉक फोर्स के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए थे। 

 



मुख्यमंत्री ने दी पुलिस को बधाई

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नक्सलियों को ढेर करने वाली टीम को बधाई दी है। उन्होंने ट्विटर पर कहा कि शुक्रवार रात बालाघाट में हमारे सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ दो दुर्दांत नक्सलियों को मार गिराया है। दोनों नक्सलियों पर 14-14 लाख रुपए का इनाम घोषित था। मुठभेड़ में हथियार सहित अनेक सामग्री बरामद हुई है। मैं पुलिस फोर्स, हॉक फोर्स और जिला पुलिस बल को बहुत-बहुत बधाई देता हूं। मैं सभी जवानों का अभिनंदन करता हूं और उनको बधाई देता हूं। यह हमारी पुलिस की वीरता और सजगता है कि वह लगातार नक्सलियों का सफाया कर रहे हैं। पिछले डेढ़ वर्षों में नक्सलियों के खिलाफ यह चौथा एनकाउंटर था, जिसमें आठ दुर्दांत नक्सली मारे गए,इन पर लगभग डेढ़ करोड़ रुपए का इनाम घोषित था। प्रदेश में हम डकैत पनपने नहीं देंगे, नक्सलवाद फैलने नहीं देंगे। सिमी के बाद पीएफआई जैसे आंतकी घटना करने वाले लोगों का भी हम सफाया कर रहे हैं। गुंडे और बदमाश जो जनता की अमन और चैन को भंग करते हैं, उनको भी हम नहीं छोड़ेंगे यह मध्यप्रदेश सरकार की प्रतिबद्धता है। 

 






Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *