People of Prayagraj will get another Vande Bharat for Delhi, brainstorming going on at Railway Board level

जानें वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन में क्या है खास
– फोटो : सोशल मीडिया

विस्तार

संगमनगरी के लोगों को दिल्ली के लिए एक और वंदे भारत एक्सप्रेस मिलने के आसार बढ़ गए हैं। इसका संचालन भी वाराणसी से नई दिल्ली के बीच होगा। यह शाम के बजाय दिल्ली के लिए सुबह रवाना होगी। इसके बाद अगर किसी को दिल्ली में कुछ देर का काम है तो वह वंदे भारत से जाकर शाम को इसी से लौट सकता है।

रेल सूत्रों के मुताबिक वाराणसी से यह वंदे भारत एक्सप्रेस सुबह छह बजे चलाए जाने की तैयारी है। तकरीबन डेढ़ घंटे में यह प्रयागराज आ जाएगी। ट्रेन यहां सुबह 7.30 बजे आएगी और दो मिनट बाद कानपुर के लिए रवाना हो जाएगी। कानपुर में सुबह 9:30 बजे ट्रेन पहुंचने के दो मिनट बाद आगे बढ़ लेगी। दोपहर दो बजे तक दिल्ली पहुंच जाएगी। यहां से तीन बजे वापसी होगी। शाम 7:30 बजे कानपुर और रात 9:30 बजे वंदे भारत प्रयागराज आएगी। रात 11 बजे वाराणसी पहुंचेगी।

बताते हैं कि ट्रेन का संचालन इसी वर्ष शुरू हो जाएगा। देश की पहली वंदे भारत भी प्रयागराज के रास्ते संचालित हो रही है। यह देश की एकमात्र ऐसी ट्रेन है, जिसकी औसत स्पीड उत्तर मध्य रेलवे जोन में 100 किमी प्रति घंटे से ज्यादा की है। दिल्ली से यह सुबह छह बजे और वाराणसी से दोपहर तीन बजे चलती है।

इसी तर्ज पर यदि दूसरी वंदे भारत चलती है तो उसका वाराणसी से समय सुबह छह बजे और नई दिल्ली से दोपहर तीन बजे रहेगा। रेलवे बोर्ड के एक वरिष्ठ अफसर ने बताया कि इस संबंध में तैयारी शुरू हो गई है। बताया कि रीवा से भी एक वंदे भारत शुरू होगी, जो इंदौर तक चलेगी। प्रयागराज से लखनऊ होते हुए गोरखपुर तक भी वंदे भारत शुरू हो सकती है।

प्रयागराज से शताब्दी ट्रेन चलाने की मांग की गई थी। अब वंदे भारत मिलने की उम्मीद है। निश्चित ही सुबह के समय चलने से प्रयागराज के लोगों को इसका काफी लाभ मिलेगा। – केशरी देवी पटेल, सांसद फूलपुर



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *