नई दिल्ली

Paytm और PhonePe जैसे वॉलेट 1मार्च से हो सकते है बंद, जानिए क्या है कारण

नई दिल्ली। डिजिटल पेमेंट करने वालों के संख्या में इन दिनों काफी तेजी आई है और इनमे ज्यादातर लोग मोबाइल वॉलेट इस्तेमाल करते हैं। नोटबंदी के बाद से ही पेटीएम, फोनपे और मोबीविक जैसे मोबाइल वॉलेट्स का उपयोग बढ़ने लगा है। लेकिन अब इन मोबाइल वॉलेट्स को यूज करने वालों के लिए एक बुरी खबर आ रही है। यह खबर बताती है कि आप आने वाले दिनों में इन वॉलेट्स का उपयोग नहीं कर पाएंगे। खबरों के अनुसार रिजर्व बैंक के एक आदेश की वजह से पेमेंट ऐप संचालन करनी वाली कंपनियों पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं। अगर आरबीआई ने अपनी डेडलाइन नहीं बढ़ाई तो 1 मार्च तक सभी मोबाइल वॉलेट्स बंद हो जाएंगे और 95 प्रतिशत यूजर्स इसका इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे। दरअसल, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने अक्टूबर 2017 में निर्देश दिया था कि सभी कस्टमर के वेरिफिकेशन का काम (KYC) फरवरी 2019 तक पूरा कर लिया जाए। लेकिन, ज्यादातर कंपनियां इस काम को पूरा करने में असफल रही हैं। टोटल यूजर के कुछ फीसदी का ही KYC हो पाया है। 90 फीसदी से ज्यादा यूजर्स का अभी तक वेरिफिकेशन नहीं हुआ है और ऐसे में अगर डेडलाइन नहीं बढ़ी तो यह यूजर्स मोबाइल वॉलेट का उपयोग नहीं कर पाएंगे। हालांकि, इसका मुख्य कारण सुप्रीम कोर्ट का वो फैसला माना जा रहा है जिसमें प्राइवेट फर्म द्वारा आधार का इस्तेमाल वेरिफिकेशन के लिए करना असंवैधानिक करार दिया गया था। इसके बाद अब ई-केवायसी पूरी तरह से बंद हो गया। हालांकि, कुछ कंपनियों ने इसके लिए दूसरा रास्ता भी अपनाया लेकिन उसके लिए खर्च बढ़ गया है और इसके बावजूद कंपनियां अपने लक्ष्य से पीछे चल रही हैं। ऐसे में 1 मार्च से इन मोबाइल वॉलेट पर बंद होने का खतरा मंडरा रहा है। हालांकि आरबीआई ने मोबाइल वॉलेट यूजर्स को राहत दी है कि 28 फरवरी के बाद भी अगर आपके वॉलेट में बैलेंस है तो वो खत्म नहीं होगा। आप उस बैलेंस से सामान खरीद सकेंगे। आप चाहें तो पैसों को वो अपने बैंक अकाउंट में भेज सकेंगे, लेकिन आप 1 मार्च से बिना केवाईसी वाले वॉलेट में पैसा नहीं डाल सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *