इटावा उत्तर प्रदेश

ड्रेस और बैग को इटावा स्कूली बच्चों को किये वितरण

चकरनगर( इटावा)। शासनादेश के क्रम में तहसील मीटिंग हाल में एक कार्यक्रम संपन्न हुआ जिसमें शिक्षा सत्र के शुरू होते ही बच्चों को स्कूली ड्रेस, बैग और पुस्तकें जो उनके अध्ययन कार्य की हैं मुख्य अतिथि शिव महेश दुबे की अध्यक्षता में वितरित किए गए। प्राप्त जानकारी के अनुसार तहसील चकरनगर के मीटिंग हॉल में शासनादेश के क्रम में मुख्य अतिथि भारतीय जनता पार्टी के जिलाअध्यक्ष शिव महेश दुबे की अध्यक्षता में संपन्न हुआ। इस कार्यक्रम के दौरान विकासखंड चकरनगर के कुछ विद्यालयों के छात्रों को इकट्ठा कर कार्यक्रम की शोभा में चार चांद लगाने के लिए शिक्षकों ने पूरी मेहनत की। इस कार्यक्रम में बच्चों को कक्षा में पढ़ने वाली पुस्तकों और उनके रखरखाव के लिए बैग और कपड़े भी वितरित किए गए जिससे बच्चों के चेहरे तो. गिल ही गए बच्चों के अभिभावकों और शिक्षकों के चहरों पर भी निखार देखा गया। कार्यक्रम के दौरान अध्यक्ष महोदय ने सहायक बेसिक शिक्षा अधिकारी चकरनगर की एक अनूठी पहल के लिए भूरि-भूरि प्रशंसा की। यह कदम है कि जिसमें दो टीमें एक दूसरे का फेस करने के लिए बैठाली जाती हैं जो एक टीम प्रश्न करती है तो दूसरी टीम उसका संतोषजनक उत्तर देती है और जब एक टीम किसी विषय वस्तु पर चर्चा करती है तो दूसरी टीम उससे आगे बढ़कर चर्चा करती है यह है प्रतियोगिता जो खंड शिक्षा अधिकारी के चलते अथक प्रयास से की जा रही है इसके लिए अध्यक्ष महोदय ने बड़े ही उल्लास पूर्ण स्वरों में खंड शिक्षा अधिकारी की बेहद तारीफ की और उन्हें इस कार्य के लिए धन्यवाद भी दिया।

इस कार्यक्रम में नन्हे-मुन्ने बच्चों और बच्चियों को काफी प्रयास कर संकलित किया गया था जो कार्यक्रम को तो सुनी रहे थे लेकिन जरा सा इशारा मिलते ही तालियों की गड़गड़ाहट होने लगती थी जो विशेष रूप से सराहनीय थी। कार्यक्रम में बृजपाल सिंह उप जिला अधिकारी चकरनगर व बेसिक शिक्षा अधिकारी इटावा, खंड शिक्षा अधिकारी चकरनगर, रवि त्रिपाठी, कुलदीप अग्निहोत्री, मनोज कुमार, प्रदीप सिंह राजावत सहित तमाम प्राइमरी विद्यालयों के शिक्षक शिक्षिकाएं छात्र-छात्राएं मौजूद रहे। कार्यक्रम में एक विशेष रूप से जो झलक देखने को मिली कि जिले का अध्यक्ष एक बहुत बड़ी पहुंच रखने वाला और पार्टी का दमदार व्यक्ति समझा जाता है जिस की अहमियत कहीं सांसद से कम नहीं होती है अधिकारों के क्षेत्र में लेकिन यहां पर अध्यक्ष का आना हुआ और उन्होंने कार्यक्रम में सारगर्भित भाषण भी दीये ओजस्वी वाणी मानो तहसील की चारदीवारी को हिला रही हो लेकिन स्थानीय भाजपा के नेताओं का मौके पर ना होना और बाहर भी कोई हरकत करते ना दिखाई देना यह एक शोचनीय और विचारणीय तथ्य जो विशेष रूप से चर्चा का विषय दिखाई दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *