भिंंन्ड मध्यप्रदेश

VIDEO: खुले आसमान के नीचे जन्मी मामा की भांजी

लहार । लहार विधानसभा क्षेत्र के ग्राम इमलाहा निवासी श्रीमती अर्चना पत्नी केशव सिंह राजावत को देर रात्रि प्रसव पीड़ा हुई तो परिजनों ने प्रसूता को मिहोना सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर गए जहां प्रसूति की व्यवस्था न होने के कारण उसे रौंन सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के लिए रेफर कर दिया गया। पीड़िता के पति केशव सिंह ने बताया कि हम जैसे तैसे रौंन अस्पताल पहुंचे तो अस्पताल में पदस्थ नर्स ने महिला को देखकर कहा की यहां कोई व्यवस्था नही है आप इसे भिंड हॉस्पिटल ले जाएं उस समय रात के तक़रीवन 3 बज रहे थे तो पीड़िता के पति ने कहा कि हमें पलंग दे दो हमारे पास वाहन की कोई व्यवस्था नही है लेकिन अस्पताल स्टाफ ने उनको यह कहकर अस्पताल से वाहर निकाल दिया कि यहां पर कोई पलंग नही है और प्रसूता और परिजन रातभर सड़क के किनारे बैठे रहे तभी सुबह लगभग 6 बजे प्रसूता ने बच्ची को सड़क के किनारे जन्म दिया ।

यह घटना देखकर जब राहगीर इकठ्ठे होने लगे तो अस्पताल से नर्स आई और बच्ची और प्रसूता को अस्पताल ले गई। इस तरह की घटनाएं अब आम होने लगी है पिछले दिनों भी मिहोना स्वास्थ्य केंद्र से एक महिला को भिंड के लिए रेफर किया गया था लेकिन दर्द से पीड़ित महिला ने रास्ते में दम तोड़ दिया। आज खुले आकाश के नीचे जन्मी नौनिहाल ने प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह औऱ भांजियों के मामा की उन दावों की पोल खोल दी जिसमें उन्होंने कहा था कि जन्म से लेकर शिक्षा तक का जिम्मा मामा के कंधों पर, लेकिन आज जन्मी नौनिहाल मामा को कोष रही होगी कि उसकी मां को प्रशासन एक जननी गाड़ी तक उपलब्ध नही करा सकी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *