भिंंन्ड मध्यप्रदेश

मामा तेरे शासन में बड़ा घोटाला राशन में टैक्टर की आड़ में उपभोक्ता संचालक लगे जुगाड़ में

दबोह। एक ओर जहाँ प्रदेश सरकार द्वारा गरीबो को राशन देने नई नई योजनाएं चलाई जा रही है बही कस्बे में संचालित उपभोक्ता भंडार के सेल्समैन सरकार को पलीता लगाने से बाज नही आ रहे मामला भिंड जिले के अंतिम छोर पर बसे नगर दबोह का है जहाँ नगर में संचालित पंडित दीनदयाल प्राथमिक उपभोक्ता भंडार दुकान कोड 116003 का सेल्समैन आज दोपहर लगभग 1:15 पर टैक्टर की आड़ में दुकान खोलकर अपानी जेब की पूर्ति करने के लिए दर्जनों लीटर तेल बेचते नजर आए यहाँ बता दे कि नगर में संचालित यह उपभोक्ता भंडार पर आए दिन राशन बेचने के लिए चर्चित है जहाँ पर राज्य शासन की नीती के अनुसार उचित मूल्य का सामान उपभोक्ताओं के लिए बिक्रय किये जाने की व्य्वस्था की गई है लेकिन इस दुकान के सम्वन्ध में कोई उचित प्रबन्ध संचालको द्वारा नही किया गया है जैसे-उचित मूल्य की दुकान के सहज गोचर स्थान पर उपभोक्ता भण्डार का नाम,संचालक का नाम,खुलने का समय व दिन तारीक,स्टॉक सूचि,रेट फिक्स आदि आवश्यक सूचनाये न लगाया जाना सन्देह के घेरे में है इसलिये पारदर्शिता न होने के कारण इन उचित मूल्य की दुकानों में भृष्टाचार भी चरम सीमा पर चल रहा है इसमें उपभोक्ता को छला जा रहा है इसके साथ नाप-तोल के लिए प्रमाणित यन्त्र भी नही है जैसे-केरोसीन नापने के लिए प्रमाणित लीटर खाद्दान तोलने के लिए इलेक्ट्रॉनिक काँटा आदि भी नहीं रखा गया है साथ ही यहाँ बता दे कि जबसे भिंड के राजा कहे जाने बाले कलेक्टर डॉ. इलैया राजा टी का ट्रांसफर हुआ है तब से भ्रष्टाचार बढ़ता ही जा रहा है क्या प्रशासन इस अनोखे भ्रष्टाचार रोकने के लिए कोई ठोस, कार्यवाही कर सकेगा…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *